SPONSORED

यदि नहीं होता भारत-पाकिस्तान का बंटवारा, होती ये मजेदार बातें

भारत-पाकिस्तान दोनों देशों को आज़ादी 1947 को मिली थी। दोनों देशों को आज़ाद हुए 69 साल पुरे हो चुके हैं।

यदि नहीं होता भारत-पाकिस्तान का बंटवारा, होती ये मजेदार बातें
SPONSORED

भारत-पाकिस्तान दोनों देशों को आज़ादी 1947 को मिली थी। दोनों देशों को आज़ाद हुए 69 साल पुरे हो चुके हैं। लकिन दोनों देशों के बीच के संम्बंद आज भी ठीक नहीं हैं। 69 साल पुराने इस झगडे में दोनों देशों को न जाने कितने रुपयों और न जाने कितने जवानों की जानो को खोना पड़ा।
सबसे बड़ी बात तो यह है की इतना सब कुछ खोने के बाद भी आज तक दोनों देशों के बीच भरोसा आज भी कायम नहीं है। आज हम आपको बता रहे हैं अगर दोनों देश एक होते तो क्या होता। 

SPONSORED

ना उखाड़ना पड़ता हैंडपंप

ना उखाड़ना पड़ता हैंडपंप

अगर दोनों देश एक साथ होते तो ग़दर एक प्रेम कथा में सनी देओल को हैण्डपंप को ना उखाड़ना पड़ता और उनका हैण्डपंप उनके पास आज भी होता।

RELATED STORIES

लोक् कारगिल, बॉर्डर, गद्दर और वीर जारा जैसे मूवीज को ना बनाना पड़ता। 

लोक् कारगिल, बॉर्डर, गद्दर और वीर जारा जैसे मूवीज को ना बनाना पड़ता। 
via

अगर भारत-पाकिस्तान के बिच कड़वाहट ना होती और भारत-पाकिस्तान एक होते तो हमको बॉर्डर, कारगिल जैसे मूवी बनाने की जरूरत ना पड़ती।

भारत-पाकिस्तान का वर्ल्ड कप ना होता।

भारत-पाकिस्तान का वर्ल्ड कप ना होता।
via

भारत-पाकिस्तान अगर अलग ना होते तो दोनों देशों के बीच वर्ल्ड कप ना होता।

अच्छे क्रिकेटर और बॉलर होते।

अच्छे क्रिकेटर और बॉलर होते।
via

किसी भी क्रिकेट टीम की ताकत उसके बेस्टमैन से होती है। भारत के पास अच्छा क्रिकेटर तो हैं लेकिन कपिल देव के बाद कोई वर्ल्डकप क्लास का अच्छा बॉलर नहीं हैं। पाकिस्तान और भारत एक होते तो हमारे पास अच्छे बोलर और क्रिकेटर सचिन, सहवाग, गावस्कर सरीखे और वसीम, वकार और शोएब अख्तर जैसे बॉलर होते।

SPONSORED

धमकी ना मिलती 

धमकी ना मिलती 
via

भारतवासियो का वन्देमातरम ना कहने पर पिछले कुछ सालों से कि पाकिस्तान जाने के धमकी ना मिलती।

भारत-पाकिस्तान टीवी सीरियल्स

भारत-पाकिस्तान टीवी सीरियल्स
via

अगर पाकिस्तान-भारत का विभाजन ना होता तो पाकिस्तानी सीरियल और इंडियन रिएलिटी शो दोनों को एक साथ देखने में मज़ा ही अलग आता।

कश्मीर में होती शांति

कश्मीर में होती शांति
via

भारत-पाकिस्तान का अगर विभाजन ना हुआ होता तो कश्मीर में शांति होती और ना हमारे देश के जवानों और रहवासियो की मौत होती। कश्मीर में हो रहे विवाद से भारत मुक्त होता।

SPONSORED