जानिए स्किन कैंसर से जुड़ी ये महत्वपूर्ण 8 बातें

इन गलतियों को मत दोहराइए। 

जानिए स्किन कैंसर से जुड़ी ये महत्वपूर्ण 8 बातें
SPONSORED

वैसे तो कैंसर की बीमारी ही अपने आप में गंभीर है। मगर बात यदि स्किन कैंसर की हो रही हो तो और भी ज्यादा सतर्क होने की जरूरत होती है। कारण कि स्किन कैंसर से जुड़े हर साल करीब 10 लाख मामले सामने आते हैं। ऐसे में हमारी सावधानी ही हमारी सुरक्षा में कारगर साबित हो सकती है। 

आज हम आपके लिए लेकर आए हैं कुछ ऐसी बातें जो आपको बताएंगी कि आपके द्वारा की जाने वाली कुछ गलतियां ही इस बीमारी को निमंत्रण देती हैं। हालांकि यह बीमारी बुजुर्ग लोगों को पहले अपनी चपेट में लेती है मगर इसका अर्थ यह भी नहीं है कि युवा निश्चिंत हो जाए। कारण कि बीमारी किसी को भी हो सकती है।

ऐसे में ज्यादा मत सोचिए। पढ़िए यह स्टोरी। इसी बहाने आप भी जान पाएंगे काम की कुछ बातें। 

1- ऐसा कोई इतिहास न हो

1- ऐसा कोई इतिहास न हो

कई लोगों का मानना है कि यदि परिवार की मेडिकल हिस्ट्री में किसी को यह समस्या नहीं हुई है तो आप खुद को सुरक्षित मान सकते हैं। हालांकि ऐसा कोई प्रमाण तो नहीं है कि आपको यह बीमारी होगी ही नहीं मगर हां, मेडिकल हिस्ट्री न होने के एवज में इसकी आशंका बहुत ही कम हो जाती है। 

RELATED STORIES

2- धूप में न आना

2- धूप में न आना

सूर्य की रोशनी में कम रहने से मेलेनोमा का खतरा दोगुना हो जाता हैI अधिकांश लोगों को यह नहीं पता होता है कि सूर्य की रोशनी भी हमारे लिए कितनी लाभदायक है। आपको बता दें कि एक सर्वे में बताया गया है कि जो व्यक्ति 35 वर्ष की आयु तक सूर्य की रोशनी के कम संपर्क में आए हैं उनमे मेलेनोमा की मात्रा 75% अधिक पाई गई I 

3- अति न कर दें

3- अति न कर दें

वैसे धूप में रहना हर किसी के लिए लाभदायक रहता है। हर किसी को विटामिन डी धूप से ही मिलता है। मगर एक बात याद रखिए कि इसकी अधिकता भी आपकी त्वचा के कैंसर को बढ़ावा देती है।

4- सनस्‍क्रीन लगाकर भूल जाना 

4- सनस्‍क्रीन लगाकर भूल जाना 

अधिकांश लोग बाहर धूप में जाने से पहले सनस्‍क्रीन लोशन का इस्‍तेमाल करते हैं। फिर सोचते हैं कि हम पूरे दिन के लिए सुरक्षित हो गए हैं मगर ऐसा नहीं है। लोकल क्रीम आपको नुकसान भी पहुंचा सकती है। 

5- गोरी त्वचा वालों को अधिक खतरा

5- गोरी त्वचा वालों को अधिक खतरा

डॉक्टर्स का मानना है कि गोरी त्वचा वालों काे स्किन कैंसर का खतरा अधिक रहता है। यदि आपको थोड़ा सा भी ऐसा संकेत मिलता है तो जरा भी देरी न करें। तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। 

6- त्वचा के धब्बों को साधारण समझना

6- त्वचा के धब्बों को साधारण समझना

लोग साधारण से दिखने वाले धब्बों को गंभीरता से नहीं लेते हैं। लेकिन यह धब्बे भी स्किन कैंसर का संकेत हो सकते हैं। यदि आपको भी इस प्रकार का कोई धब्बा 4 हफ्ते से ज्यादा समय तक रहता है तो तुरंत जाकर किसी डॉक्टर को बताएं।

7- पोषित आहार नहीं लेना 

7- पोषित आहार नहीं लेना 

लगातार नॉन वेज और अधिक तेल-मसालों से भरपूर आहार लेने से स्किन कैंसर ही नहीं बल्कि हजारों बीमारियों को बढ़ावा मिलता हैI ऐसे में लगातार ऐसा भोजन न करें। कुछ ऐसा खाएं जो आपके स्वास्थ्य के अनुकूल होI हरी सब्जियाँ आपके लिए फायदेमंद रहेंगी। 

8- पिंपल्स को गलत ढंग से फोड़ना

8- पिंपल्स को गलत ढंग से फोड़ना

कभी भी किसी भी फोड़े या फुंसी को गलत तरीके से न फोड़ दें। कारण कि इसके फूटने पर इसमें से निकलने वाला गंदा खून या मवाद स्किन पर जाता है जो कि हानिकारक साबित हो सकता है। 

तो कैसी लगी आपको यह स्टोरी। अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिएगा। 

Source

क्या आप मानते हैं कि स्किन कैंसर की रोकथाम के लिए जागरूकता बढ़ाने की जरूरत है?