SPONSORED

शिशुओं की देखभाल के लिए कुछ ज़रूरी बातें जो कई माता-पिता नहीं जानते 

कुछ ऐसी बातें जो शिशु पालने के लिए जानना बहुत उपयोगी हैं।

शिशुओं की देखभाल के लिए कुछ ज़रूरी बातें जो कई माता-पिता नहीं जानते 
SPONSORED

ऐसी बातें जो अगर आप जान लें तो आपकी परेशानी बहुत कम हो जायेगी, क्योंकि कोई भी माता-पिता शिशुओं की देखभाल में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते। कई सारे अनुभवों से आपके लिए कुछ ख़ास और ज़रूरी बातें।

तोह आइए गौर फरमाएं कुछ ऐसी ही दिलचस्प जानकारी पे।

SPONSORED

1. सबसे ज़रूरी है बच्चों की मालिश।

1. सबसे ज़रूरी है बच्चों की मालिश।

बच्चों के जन्म से ही उनकी मालिश शुरू कर देना चाहिए, और इसे कम से कम एक साल तक रोज़ाना करना चाहिए। बच्चों के मालिश के तेल का चुनाव उनकी त्वचा अनुसार करें, अगर मालिश से त्वचा में किसी भी प्रकार की बदलाव दिखे तो तुरंत तेल बदल दें।

RELATED STORIES

2. बच्चों को अपना पूरा समय दें।

2. बच्चों को अपना पूरा समय दें।
via

अपना ज़्यादा से ज़्यादा समय बच्चों के साथ बिताएं, मानसिक विकास में उनको आपकी बहुत ज़रूरत होती है। आप उन्हें जो भी सीखाएंगे, जैसा सिखाएंगे वह वैसे ही बन जाएंगे। उनसे बाते करें, हँसे, अच्छी आदते सिखाएं।

3. बोतल फीडिंग करते समय ज़रूर रखें ध्यान।

3. बोतल फीडिंग करते समय ज़रूर रखें ध्यान।
via

माँ का दूध सम्पूर्ण आहार है पर अगर आप बोतल से बच्चे को फीड कराते हैं तो ध्यान रखें की आप बोटल को हर इस्तेमाल के बाद गर्म पानी में डुबा कर रखें या स्टेरलाइज़र का उपयोग करें ताकि बच्चे को बोतल से होने वाले इन्फेक्शन से रोका जा सके।

4. बच्चों को सँभालने में इन बातों का ध्यान रखें।

4. बच्चों को सँभालने में इन बातों का ध्यान रखें।
via

बच्चों का शरीर बहुत नाज़ुक होता है। वे खुद को संभाल नहीं पाते इसीलिए आप जब भी बच्चों को उठाते हो तो एक हाँथ हमेशा उनकी गर्दन पर रखो| बच्चों को हवा में कतई ना उछालें, उन्हें किसी भी प्रकार का झटका ना लगने दें।

SPONSORED

5. बच्चों की एक्टिविटी को बढ़ावा दें।

5. बच्चों की एक्टिविटी को बढ़ावा दें।
via

कुछ ही महीने में बच्चे पलटने, घुटने चलने, खसकने, और चलने की प्रक्रिया को समझने लगते हैं। बच्चों के बिस्तर ज़मीन पर ही लगाऐं, ताकि ऊंचाई से गिरने का डर ना हो। जब बच्चा घुटने चले तब आप उसे एक जगह से दूसरी जगह जाने का प्रयत्न करवाएं। इसी तरह वो जल्दी चलने में सक्षम हो सकता है। 

6. हर चीज़ खाने की आदत है ख़राब। 

6. हर चीज़ खाने की आदत है ख़राब। 
via

बच्चे अक्सर हर किसी चीज़ को उठा के मुँह में डालने की कोशिश करते हैं। ये आदत समझ के साथ ही जाती है, इसीलिए घर साफ़ रखें, छोटी चीज़ों को बच्चों की पहुँच से दूर रखें, औजारों को ड्रॉवर में बंद रखें और बच्चों के खिलौने को समय समय पर साफ़ करें। ऐसा ना करने पर बच्चों को बीमारियाँ अधिक लगती हैं।

7.  सही आदतें सही समय पर।

7.  सही आदतें सही समय पर।
via

बच्चों की आदतें जैसी हम चाहेंगे वैसी बन जायेगी। रात को सोना, सुबह उठने से लेकर खाने का समय, और फ्रेश होने का समय। यह सब बहुत महत्वपूर्ण हिस्सा है क्योंकि एक बार कोई आदत गलत बन गई तो उसे बदलना बहुत ही मुश्किल है।x

SPONSORED
-->