यह 7 बातें हैं याद, तो सुनहरा था आपका बचपन 

काश मेरा बचपन लौट आए। 

यह 7 बातें हैं याद, तो सुनहरा था आपका बचपन 
SPONSORED

"बचपन में भरी दोपहरी में नाप आते थे पूरा मोहल्ला, जब से डिग्री हाथ में आई, पाँव जलने लगे"

मुझे आज भी याद है मेरा बचपन जहाँ गर्मियों की छुट्टी लगी नहीं कि बस दोस्तों के साथ भरी दोपहरी में निकल जाया करती थी। माँ डाँटती भी थी, लेकिन फिर रो-धोकर अपनी बात मनवाने का हुनर मुझे बख़ूबी आता था और माँ तो होती ही ऐसी है कि बस औलाद के आँसुओं से जिसका कलेजा फट जाता है। 

और तो और माँ अपने हज़ार कामों में फंसी हुई हो, मैं तो बस पल्ला पकड़ कर शुरू हो जाती थी "माँ आज टीचर ने ऐसा कहा, मैंने इस दोस्त से कट्टी कर ली, माँ आज दुकान पर नई चॉकलेट आई है" और पता नहीं बिना सिर पैर की कितनी बातें। 

मगर आज कितना कुछ मैं कहना चाहती हूँ, लेकिन बात हलक़ में अटक गई है, अलफ़ाज़ ही नहीं मिलते।

 मेरा खिलौना भी घूमता रहे 

Loading...

RELATED STORIES

मेरा लट्टू टक-टक टक-टक 

सड़क पर नहीं घूमता माँ 

परेशानियों के चक्रव्यूह में 

घूमने लगा है जीवन मेरा 

किसी परिंदे को आज़ाद कर दूँ 

Loading...

माँ! तू आसमान में दिखाती थी  

परिंदों को उड़ता हुआ 

देख मेरी उड़ान रुक गई 

हौंसला हार गई मैं माँ!


मेरी काग़ज़ की कश्ती फिर पानी में तैरने लगे 

Loading...

आज भी बारिश की बूंदों में 

दिखती है तेरी कड़ाही माँ!

कागज़ की नाव बनाकर मैं भी 

जी आऊं फिरसे बचपन मेरा 

मैं भी घोड़ा-गाड़ी दौड़ाऊं

Loading...

माँ!

मेरे बचपन वाली घोड़ा-गाड़ी 

अब भी मिलती है क्या बाज़ारों में 

बड़ी-बड़ी सी कारों में अब 

ढूंढता फिरता हूँ बचपन मेरा 

मेरी पतंग आसमाँ को छुए 

मेरी पतंग आसमाँ को छुए 
via

माँ! मेरी पतंग याद होगी तुझको 

आसमान को छूती थी 

और जब कोई काट दे डोरी उसकी 

मैं तेरे आँचल में आकर रोती थी,

माँ! अब तो लोग काटते है मुझको 

लेकिन मैं सह जाती हूँ माँ!

छिपा लेती हूँ दर्द मैं सारा 

मन ही मन सिसकती रह जाती हूँ माँ! 

मैं फिरसे हँसने लग जाऊं

मैं फिरसे हँसने लग जाऊं
via

माँ! तू कहती थी ना मुझको 

मैं तेरा राज दुलारा हूँ 

मेरी मुस्कान से है दुनिया रोशन 

और मैं ही सबसे प्यारा हूँ 

माँ! मैं हँसना भूल चुका हूँ अब तो 

जीवन भी वीरान सा है 

आगे बढ़ने की हौड़ यहाँ पर 

हर कोई परेशान सा है 

लौट आए बचपन मेरा 

लौट आए बचपन मेरा 
via

दौड़ती-भागती इस दुनिया में 

कोई नहीं है मेरा माँ 

ज़िन्दगी कहती है मुझसे 

लौट आये वो बचपना मेरा।

आप भी याद करेंगे बचपन के दिन इस वीडियो को देखकर

ZINDAGI चैनेल पर आ रहा है Little Lords, 3 अक्टूबर से, मुझे यक़ीन है इस बच्चे की मासूम शरारतें, आपके बचपन की यादें तरो-ताज़ा कर देंगी।