यह है 'दीया और बाती हम' की भाभो के 'सपनों का घर'

जानें कैसी है भाभी की पर्सनल लाइफ।

यह है 'दीया और बाती हम' की भाभो के 'सपनों का घर'
SPONSORED

संध्या और सूरज, यह नाम तो आपने बहुत बार सुने होंगे। पर यह दोनों नाम साथ में पढ़कर आपको क्या याद आता है? जी हां हम बात कर रहे हैं स्टार प्लस के 'दीया और बाती हम' सीरियल की। जिसमे संध्या और सूरज मुख्य किरदार में थे। वैसे आपको यह सीरियल याद आया है तो भाभो भी याद आ गयी होगी। इन्हीं भाभो का असली नाम नीलू वाघेला है। तो आइये हम आपको बताते हैं भाभो के 'सपनों के घर' के बारे में।

पिछले महीने खत्म हुआ शो

पिछले महीने खत्म हुआ शो

'दीया और बाती हम' सितम्बर 2011 में शुरू हुआ था और 5 साल तक दर्शको का मनोरंजन करने के बाद पिछले महीने सितम्बर में ही खत्म हुआ है। इस शो को दर्शको ने काफी पसंद किया था। साथ ही इसमें भाभो के किरदार को भी बहुत सराहा गया था

RELATED STORIES

राजस्थानी फिल्मों में है सक्रिय

राजस्थानी फिल्मों में है सक्रिय
via

46 वर्षीय भाभो या नीलू वाघेला मुम्बई में रहती हैं। वे राजस्थानी सिनेमा में काफी जाना पहचाना नाम है।

सपनों का घर

सपनों का घर
via

नीलू जी का कहना है कि उनका हमेशा से ही सपना था कि उनका घर ऐसा हो जहाँ से वो पक्षियों का कलरव सुन सकें। उनके इस मुम्बई वाले घर ने उनका यह सपना पूरा किया।

17 साल पहले देखा था सपना

17 साल पहले देखा था सपना
via

नीलू जी का कहना है कि वे 17 साल पहले भी यह घर खरीदना चाहती थी पर यह बहुत महंगा था। उनके पति अरविन्द वाघेला और उन्होंने निश्चय किया था कि वो शादी से पहले खुद का घर खरीदेंगे।

मेहनत से मिला घर

मेहनत से मिला घर
via

उनके पति का राजकोट में खुद का बंगला है। पर वो दोनों मुम्बई में काम करते थे। इसलिए उनका सपना मुम्बई में खुद का घर लेने का था। उन दोनों ने मिलकर संघर्ष किया। उनके पति ने हमेशा उनका साथ दिया। इस तरह उन दोनों नें मिलकर अपना यह सपना पूरा किया।

परंपरागत आर्ट पीसेज़ से है लगाव

परंपरागत आर्ट पीसेज़ से है लगाव
via

नीलू जी का कहना है कि वे संस्कृति को बहुत मानती हैं। इसलिए उन्होंने घर के हर कोने को आर्ट पीसेज़ से सजाया है।

वास्तु पर भी दिया ध्यान

वास्तु पर भी दिया ध्यान
via

नीलू जी आगे कहती हैं कि पहले उन्हें वास्तु पर इतना विश्वास नहीं था। पर फिर कुछ नकारात्मक परिस्थियां बनी जिन्होंने उन्हें वास्तु की ओर मोड़ा। उन्होंने घर में कुछ बदलाव किए जिससे घर में सकारात्मकता का प्रवाह होने लगा।

बोरीवली में है घर

बोरीवली में है घर
via

नीलू जी का यह घर मुम्बई के बोरीवली में है। यह 2 बीएचके का फ्लैट है। यह घर 1250 स्क्वायर फीट के एरिया में बना है।

1999 में ख़रीदा घर

1999 में ख़रीदा घर
via

नीलू जी ओर उनके पति ने यह घर 1999 में खरीदा ओर उसके बाद उन्होंने शादी कर ली। उनके दो बच्चे वंशिका और कैजेर भी हैं।

कई अवार्ड्स किये हैं अपने नाम

कई अवार्ड्स किये हैं अपने नाम
via

भाभो यानि नीलू जी ने अपने एक्टिंग करियर में कई अवार्ड्स जीते हैं। उन्होंने इन्हें भी बड़े सलीके से सजा रखा है।

भाभो का रसोईघर

भाभो का रसोईघर
via

'दीया ओर बाती हम' में तो आपने भाभो को कई दफ़ा अपनी बहुओं को किचन में काम सिखाते देखा होगा। आज आप नीलू जी का असली रसोईघर भी देख ही लीजिये।

सुखी परिवार

सुखी परिवार
via

इस तस्वीर में नीलू जी अपने पति ओर बच्ची के साथ काफी खुश नजर आ रही हैं।