SPONSORED

आमिर खान की दंगल गर्ल गीता फोगट, बनी हरियाणा पुलिस में डीएसपी 

दंगल गर्ल का दंगल अब याद आया हरियाणा सरकार को 

SPONSORED

, " " " " ,

दंगल की कहानी 

दंगल की कहानी 

आमिर खान कुछ भी करते हों, मगर करते कमाल हैं। हाल ही में वे एक मूवी ले कर आ रहे हैं "दंगल" जिसमें वे हरियाणा के बलाली गाँव के कुश्ती कौच महाबीर बने हुए हैं।यह कहानी महाबीर और उनकी रेसलर बेटियों की है।    

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

आज से पहले कभी नाम सुना था गीता फोगट का नाम? 

आज से पहले कभी नाम सुना था गीता फोगट का नाम? 
via

दंगल फिल्म की चर्चा से पहले क्या आपने गीता फोगट का नाम सुना था या आपको यह नाम याद था।मुझे आपका नहीं पता मगर अगर मैं अपनी बात करूँ तो मैंने पहले यह नाम भी नहीं सुना था।और जब यह नाम सुना और गूगल किया तो एक तरफ शर्म भी आ रही थी और इनके बारे में पढ़ कर गर्व भी हो रहा था।    

पहली बार महिला कुश्ती को सोने का स्वाद चखाया था 

पहली बार महिला कुश्ती को सोने का स्वाद चखाया था 
via

जी हाँ गीता फोगट वह नाम है जिसने पहली बार भारतीय महिला कुश्ती को सोने का स्वाद चखाया था। 6 साल पहले दिल्ली में हुआ कॉमनवेल्थ गेम्स, घोटालों के लिए तो सबको याद है। मगर क्या किसी को यह याद है। इसी कॉमन वेल्थ गेम्स में गीता ने 55 किलों वज़न की कैटेगरि में विश्व भर की पहलवानों को पटकनी दे कर देश के लिए सोना जीता था।    

बन चुकी है हरियाणा पुलिस में डीएसपी 

बन चुकी है हरियाणा पुलिस में डीएसपी 
via

गीता फोगट की पदोन्नति कर दी गई है अब उन्हें इंस्पेक्टर से डीएसपी बना दिया गया है। दरअसल खेलो की राजधानी हरियाणा ने एक बहुत ही खुबसूरत सा निमय लागू किया है।इसके अनतर्गत जो ख़िलाड़ी देश के लिए सोना ले कर आता है उसे सीधे पुलिस महकमे में डीएसपी के पद पर भर्ती किया जाता है। 2010 में ऐसे 6 ख़िलाड़ीयों की सूचि तैयार की गई थी जिनमें से एक गीता भी थी।   

अपना हक़ पाने के लिए भी लड़ना पड़ा 

अपना हक़ पाने के लिए भी लड़ना पड़ा 
via

रेसलर गीता की जिंदगी भी किसी दंगल से कम नहीं है।पहले अपने सम्मान के लिए लड़ी, फिर देश के अभिमान के लिए लड़ी और फिर अपना हक़ पाने के लिए कानून की मदद से, सरकार से लड़ी। जिन 6 खिलाड़ियों की सूचि बनी थी उसमें गीता का नाम पहले नंबर पर था फिर भी उन्हें इंस्पेक्टर पद पर नियुक्त किया गया।    

लेना पड़ी हाईकोर्ट की मदद 

लेना पड़ी हाईकोर्ट की मदद 
via

गीता ने बहुत कोशिश की अधिकारियों से मिली सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटे मगर किसी ने नहीं सुनी।सोचो जब एक राष्ट्रीय स्तर पर देश के लिए गोल्ड जीतने वाली महिला की बात नहीं सुनी जाती, तो ऐसे में आम जनता की बात कैसे सुनी जाएगी? मजबूरन गीता हो हरियाणा हाईकोर्ट में गुहार लगानी पड़ी।   

हाई कोर्ट के आदेश के बाद खुली केंद्र सरकार की नींद 

हाई कोर्ट के आदेश के बाद खुली केंद्र सरकार की नींद 
via

हाई कोर्ट के आदेश के बाद अब सरकार नींद से उठी और मुख्यमंत्री साहब ने कैबिनेट स्तर की बैठक ली और फिर कैबिनेट ने गीता को डीएसपी के पद पर नियुक्त कर दिया। 

यह है गीता का ऑफस्क्रीन परिवार 

यह है गीता का ऑफस्क्रीन परिवार 
via

फिल्म दंगल में गीता के पिता और उनके संघर्ष के बारे में तो सब जान जायंगे मगर आज मेरे पास आपके और मेरे लिए एक टास्क है।क्यों ना हम उन लोगों के बारे में पता करने की कोशिश करें जिन पर अब तक कोई फिल्म या बुक नहीं लिखी गई हो।यह किसी इंसान की नहीं आखिर देश के सम्मान की बात है।   

SPONSORED