SPONSORED

अजय ने अपनी फिल्म को हिट करवाने के लिए निकाला था सरनेम में से एक 'A', जानें सच 

अजय देवगन ने अपने सरनेम में से क्यों निकाल दिया एक 'A'

SPONSORED

, -

अजय देवगन 

अजय देवगन 

अजय देवगन को आज फिल्म इंडस्ट्री में 25 साल हो गए हैं। इन 25 सालों में अजय देवगन की जिंदगी में कई पड़ाव आए, कुछ अच्छे कुछ बुरे। मगर अजय ने कभी हार नहीं मानी, बस अपने हुनर पर यकीन किया और आज वे बॉलीवुड के सबसे वर्सटाइल एक्टर्स में से एक हैं। 

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

'ऑल द बेस्ट' में बदला सरनेम 

'ऑल द बेस्ट' में बदला सरनेम 
via

अजय देवगन अपना पूरा सरनेम लिखते थे, मगर 2009 में उनके होम प्रोडक्शन की फिल्म 'ऑल द बेस्ट' के पोस्टर ने सबको चौंका दिया। इसमें अजय देवगन के सरनेम में एक A मिसिंग था। बस तब से ही फ़िल्मी गलियारों में इसको लेकर कई अटकलें लगाई जाने लगी। 

दोस्तों और परिवार वालों के कहने पर बदला नाम 

दोस्तों और परिवार वालों के कहने पर बदला नाम 
via

एक मैगज़ीन ने अपने आर्टिकल में अजय के नाम बदलने के पीछे उनके दोस्तों और परिवार वालों का हाथ बताया, मैगज़ीन के हवाले से कहा गया कि अजय देवगन के दोस्तों और उनके परिवार वालो नें उनसे अपने सरनेम की स्पेलिंग चेंज करने को कहा था। 

एक A हटने के बाद नाम बैलेंस हो जाएगा 

एक A हटने के बाद नाम बैलेंस हो जाएगा 
via

अजय के दोस्तों और परिवार वालों का कहना था कि अगर वो अपने सरनेम में से एक A हटा देंगे तो उनका नाम बैलेंस हो जाएगा और यह कामयाबी को अपनी और आकर्षित करने में सहायता प्रदान करेगा। कहा जाता है अजय ने इसी प्रलोभन में अपने सरनेम में से एक A निकाला था। 

स्वास्थ्य परेशानी के चलते बदला था नाम 

स्वास्थ्य परेशानी के चलते बदला था नाम 

अजय के करीबी सूत्रों के अनुसार अजय को अपना नाम बदलने की सलाह उनकी माँ ने ही दी थी। वजह उनके स्वास्थ्य की चिंता बताई जा रही है। दरअसल यू मी और हम फिल्म की शूटिंग के दौरान उनके बैक और गर्दन में दर्द हो गया था जिसके चलते उन्हें बहुत सारी परेशानी का सामना करना पड़ा था। इसी कारण उनकी माँ ने उन्हें अपना नाम बदलने की सलाह दी थी। 

भला बीवी से कौन जीत पाता है 

भला बीवी से कौन जीत पाता है 
via

कहा जाता है शुरुआत में अजय अपना सरनेम बदलने को तैयार नहीं थे मगर फिर श्रीमती देवगन ने उनसे अपना नाम बदलने के लिए आग्रह किया। बताया जाता है कि इन दिनों काजोल अजय के स्वास्थ्य के लिए काफी चिंतित थी। शुरुआत में अजय ने कई तर्क दिए मगर अंत में जीत बीवी की ही होती है और अजय को उनकी बात माननी पड़ती है।     

ये कैसे हो गया?

ये कैसे हो गया?
via

सूत्रों का कहना है जब अजय के दोस्तों को यह बात पता चली तो उन सब का एक ही रिएक्शन था, यह कैसे हो गया। क्योंकि अजय संख्या विज्ञान और ज्योतिष शास्त्र में ज्यादा यकीन नहीं रखते हैं। कहा जाता है यह अजय के लिए एक बहुत बड़ा फैसला था।

एक 'A' हट जाने से मिली कामयाबी 

एक 'A' हट जाने से मिली कामयाबी 
via

अब इसे अंधविश्वास कह लो, तुक्का कह लो या आस्था कह लो मगर अजय को एक A हटाने का फायदा तो मिला। 'यू मी और हम' के फ्लॉप होने के बाद अजय का करियर ढलान पर आ कर रुक गया था, मगर नाम बदलने के बाद 2010 में आई Once Upon A Time In Mumbai सुपर हिट गई। फिर तो उनका कामयाबी का सफर रुका ही नहीं, फिर चाहे वो गोलमाल हो, राजनीति हो, सिंघम हो, बोल बच्चन हो या सन ऑफ सरदार हो एक के बाद एक वो हिट फिल्म देते गए और बॉलीवुड की दुनिया के वर्सटाइल एक्टर बन गए।

SPONSORED