दिव्यंका और विवेक ने दिया सामाजिक एकता का उदाहरण, पहले लिया आशीर्वाद फिर किया इवेंट

दिव्यंका और विवेक की अजमेर से जुड़ी यादें।

दिव्यंका और विवेक ने दिया सामाजिक एकता का उदाहरण, पहले लिया आशीर्वाद फिर किया इवेंट
SPONSORED

"जो भी तेरे दर आया झुकने जो सर आया, मस्ती पीये सबको झूमता नज़र आया"

अजमेर ऐसी जगह है जो रूहानियत से भरपूर है।इस रूहानी जगह पर, विवेक और दिव्यंका ख्वाजा साहब का आशीर्वाद लेने पहुँचे।हमारे Indian tradition के अनुसार ऐसा अक्सर होता है कि नए दम्पति, धार्मिक स्थान पर ज़रूर जाते है।एक ऐसा मौका दिव्यंका और विवेक को भी मिला, कुछ समय पहले दिव्यंका और विवेक, किसी इवेंट के सिलसिले में अजमेर गए हुए थे।इवेंट अटेंड करने से पहले इस newly weded जोड़े ने ख़्वाजा साहब के दरबार पर दुआ ली और फिर आगे की पेर्फोर्मंस करने गए।  

अजमेर ट्रिप के दौरान दिव्यांका और विवेक की मुलाक़ात, विलायत चिश्ती साहब से हुई।दिव्यांका और विवेक के लिए यह बहुत ही अच्छा अनुभव था। विवेक और दिव्यंका ने दरगाह शरीफ में जाकर लोगों के बीच सामाजिक एकता का उदाहरण पेश किया है। 

दिव्यांका और विवेक ने लिया दरगाह शरीफ पर आशीर्वाद 

दिव्यांका और विवेक ने लिया दरगाह शरीफ पर आशीर्वाद 

 शादी के बाद यह दिव्यांका और विवेक का पहला रोड ट्रिप था। रोड ट्रिप करने का भी अपना अलग ही मज़ा है और जब रोड ट्रिप राजस्थान कि सड़कों पर की जाए तो मज़ा दुगना हो जाता है।अपने बिज़ी रूटीन से समय निकाल कर,इस रोड ट्रिप पर दोनों ने एक दूसरे के साथ, बहुत अच्छा समय बिताया । 

RELATED STORIES

दिव्यंका और विवेक मिले विलायत चिश्ती साहब से 

दिव्यंका और विवेक मिले विलायत चिश्ती साहब से 

दिव्यांका बताती है कि अजमेर ट्रिप के दौरान, उनका मिलना विलायत चिश्ती साहब से हुआ जो के दरगाह के देख-रेख करता हैं।यह बहुत ही अच्छी और आध्यात्मिक मुलाक़ात थी जिसे विवेक और दिव्यांका ने भरपूर एन्जॉय किया। 

अजमेर के लोगों ने किया खुले दिल से स्वागत 

अजमेर के लोगों ने किया खुले दिल से स्वागत 
via

दिव्यांका और विवेक की जोड़ी telivision की सबसे पसंदीदा जोड़ियों में से एक है।इन दोनों की जोड़ी को कई अलग-अलग जगह से निमंत्रण आते ही रहते हैं।यह मौका था अजमेर में गरबा उत्सव का, जहाँ दिव्यंका और विवेक ने एक साथ जाने का सोचा। 

इस ट्रिप में रुहानिका धवन भी थी साथ 

इस ट्रिप में रुहानिका धवन भी थी साथ 

इस ट्रिप में रूहानिका धवन, मतलब हमारी प्यारी "रूही" भी साथ थी। इसमें कोई शक नहीं है कि इन दोनों के बीच जितना अच्छा ताल-मेल टीवी पर दिखाया जाता है उतना ही प्यार असल ज़िन्दगी में भी है।निसंदेह दोनों की ही एक्टिंग ज़बरदस्त है।  

स्टेज परफॉरमेंस करने से पहले सबने लिया आशीर्वाद 

स्टेज परफॉरमेंस करने से पहले सबने लिया आशीर्वाद 
via

दिव्यंका और विवेक, एक गरबा उत्साह में शामिल होने जा रहे थे। इस उत्सव में शामिल होने से पहले उन्होंने दरगाह पर जाकर आशीर्वाद लिया। दोनों के लिए यह बहुत ही ख़ास सफर रहा। 

विलायत चिश्ती साहब ने करवाई दरगाह पर ज़्यारत 

विलायत चिश्ती साहब ने करवाई दरगाह पर ज़्यारत 
via

दिव्यंका बताती है की विलायत चिश्ती साहब से मुलाक़ात एक बहुत ही अच्छा अनुभव था। उन्हें पूरी दरगाह की ज़्यारत, चिश्ती साहब ने ही करवाई। दिव्यंका और विवेक, अपने इस अच्छे आचरण से यह भी साबित करते हैं कि मज़हब कोई भी हो, बात सिर्फ अक़ीदे की है। 

अजमेर का सफर बहुत अच्छा रहा 

अजमेर का सफर बहुत अच्छा रहा 
via

दिव्यंका और विवेक का अजमेर का सफर बहुत अच्छा रहा। अजमेर के लोगों ने खुले दिल से उनका स्वागत किया। मेहमान नवाज़ी तो हम भारतियों के खून में शामिल है। और फिर दिव्यंका है भी इतनी प्यारी की जहाँ भी जाएंगी इनका सब स्वागत करेंगे। 

आप भी देख सकते है इन्हें गरबा उत्सव में एन्जॉय करते हुए

अजमेर के इस इवेंट में, दिव्यंका और विवेक ने एक साथ परफॉर्म किया और उनके साथ शामिल थी रूही भी । सब ही ने अजमेर में बहुत एन्जॉय किया और यह ट्रिप सबके लिए बहुत यादगार साबित हुई।