SPONSORED

इन आसान तरीकों को अपनाकर बचा जा सकता है सर्दी में होने वाली बीमारियों से

बीमारियों से बचना है तो यह पोस्ट जरुर पढ़ें!

SPONSORED

, , ,

त्वचा फटने लगती है 

त्वचा फटने लगती है 

सर्दी के शुरूआती दिनों में त्वचा फटने लगती है, जैसा हमने ऊपर बताया हमारा शरीर सर्दी को सहन करने के लिए पूर्णत: तैयार नहीं होता है और इस कारण बहुत से बदलाव हमारी त्वचा और शरीर में आते हैं। उसी तरह त्वचा का फटना भी सर्दी का ही एक लक्षण है। इससे बचने के लिए रोज नहाने के बाद मॉइश्चराइज़र, वैसलीन या नारियल तेल लगाएं।

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

सांस की तकलीफ होने लगती है

सांस की तकलीफ होने लगती है
via

सर्दी के शुरूआती दिनों में ऐसा बुजुर्गों के साथ जरुर होता है। जब भी सर्दी की शुरुआत होती है उसी दिन से बुजुर्गों को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। ऐसा ज्यादातर ठंडी हवा या धूल से होता है। अगर किसी को सर्दी में यह प्रॉब्लम होती है तो वो धूल और ठंडी हवा से जरूर बचें, यदि फिर भी सांस की प्रॉब्लम होती है तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।

निमोनिया

निमोनिया
via

सर्दी की शुरुआत में बच्चों को निमोनिया या बुखार हो जाता है। बच्चों को निमोनिया अधिकतर माँ की गलती से होता है, क्योंकि सर्दी की शुरुआत में वो बच्चे को रात में पूरी तरह से ढककर नही रखती है और बच्चे को निमोनिया हो जाता है। ऐसे में अगर माँ बच्चे का पूरी तरह से ख्याल रखे और उसे गर्म कपड़े पहनाकर सुलाए तो निमोनिया से बचाव हो सकता है।

दिल की बीमारी का भी खतरा बना रहता है पर घबराएं नहीं 

दिल की बीमारी का भी खतरा बना रहता है पर घबराएं नहीं 
via

सर्दी की शुरुआत में कोई भी अपना पूरी तरह से ख्याल नहीं रख पाता है। आप जानते हो कि ठण्ड की वजह से हमारा खून गाढ़ा हो जाता है और रुकने लगता है, ऐसे में दिल के मरीज को हार्ट अटैक आने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए नहाने और सैर पर जाने की आदत को मौसम के हिसाब से बदल लें।

जुकाम लगना 

जुकाम लगना 
via

सर्दी के शुरुआत में और कोई बीमारी हो या ना हो पर जुकाम तो जरुर होता है। जुकाम सर्दी की शुरुआत में ही हमें जकड़ लेता है और आप जानते हो जब जुकाम लगता है तो इंसान के साथ क्या-क्या होता है। किसी भी काम में मन नहीं लगता व शरीर सुस्त रहता है, इसके और भी बहुत लक्षण होते हैं। आप जुकाम  से बचना चाहते हो तो सुबह उठते ही योग करें, क्योंकि योग करने से शरीर मे गर्मी आती है जिसकी वजह से जुकाम इंसान को जकड़ नहीं पाता है।

पुरानी चोट का दर्द 

पुरानी चोट का दर्द 
via

ऐसा उन लोगों के साथ होता है जिन्हें किसी एक्सीडेंट या अन्य किसी प्रकार से गंभीर चोट आई हो। सर्दी की शुरुआत में ही उस पुरानी चोट का दर्द दोबारा शुरू हो जाता है। यदि आप भी पुरानी चोट से परेशान हो तो हमेशा अपनी उस चोट पर गर्म पानी का सेक करें, ऐसा करने से चोट पर ठंड का असर कम होगा और वो दर्द नहीं करेगी।

सिरदर्द होना 

सिरदर्द होना 
via

सर्दी में बहुत बार ऐसा होता है कि हमारा सिरदर्द करने लग जाता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बहुत कम लोग हैं जो सर्दी में अपना सिर ढक कर रखते हैं। आज कल फैशन का जमाना है और हर कोई अपना हेयर स्टाइल लोगों को दिखाना चाहता है, यही कारण है कि सर्दी में लोगों का सिर दर्द करता है। सिरदर्द से बचने के लिए हमेशा अपने सिर को ढककर रखें, ताकि ठंड ना लग पाए। यात्रा के वक्त भी इस बात का ख़ास ध्यान रखें, बस या बाइक किसी से भी यात्रा करने पर सिर को जरूर ढककर रखें।

SPONSORED