SPONSORED

ना चायवाला और ना सब्जीवाली, छत्तीसगढ़ की पुलिसवाली है फेसबुक पर सुपरहिट

छत्तीसगढ़ की कॉन्स्टेबल स्मिता टांडी हैं फेसबुक पर सुपरहिट। 

SPONSORED

, ,

कॉन्स्टेबल स्मिता टांडी फेसबुक पर सुपरहिट

कॉन्स्टेबल स्मिता टांडी फेसबुक पर सुपरहिट

छत्तीसगढ़ की स्मिता टांडी राज्य पुलिस में हेड कॉन्सटेबल हैं। स्मिता के फेसबुक पर 7 लाख 20 हजार फॉलोअर्स हैं। सबसे खास बात ये है कि स्मिता ने मार्च 2015 में ही फेसबुक पेज बनाया था।

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

गरीबों की मदद के लिए बनाया सोशल ग्रुप

गरीबों की मदद के लिए बनाया सोशल ग्रुप
via

स्मिता टांडी ने जरूरतमंदों की मदद के लिए एक ग्रुप भी बनाया है। जिससे वो गरीबों की मदद करती हैं, कभी उन्हें सरकारी योजनाएं बताती हैं तो कभी लोगों से मिलकर उनकी मदद करने की कोशिश करती हैं।

आखिर कहाँ से मिली प्रेरणा

आखिर कहाँ से मिली प्रेरणा
via

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक स्मिता के पिता भी पुलिस में कॉन्सटेबल थे। बीमारी के चलते उनका देहांत हो गया, अंतिम समय में उन्हें पैसे की सख्त जरूरत थी। पिता की मौत के समय स्मिता ट्रेनिंग ले रही थी। शायद इसी घटना ने उन्हें प्रेरणा दी।

शुरूआत में लोगों ने ध्यान नहीं दिया

शुरूआत में लोगों ने ध्यान नहीं दिया
via

जब स्मिता ने फेसबुक के इस्तेमाल से लोगों की मदद करने की ठानी तो शुरूआत में लोगों ने ध्यान नहीं दिया। लेकिन बाद में इन्हीं लोगों ने स्मिता के इस नेक काम में मदद करना शुरू कर दिया और अब लोग भी पोस्ट शेयर कर उनकी मदद करते हैं।

जांच परख कर करती हैं मदद

जांच परख कर करती हैं मदद
via

स्मिता को जैसे ही किसी जरूरतमंद के बारें में जानकारी मिलती है, और अगर वो आस-पास के इलाके में है तो वो उनके पास जाती हैं एवं खुद मदद करती हैं। इसके साथ ही फेसबुक पर उस जरूरतमंद से संबंधित पोस्ट भी करती हैं। जिसे स्मिता के फॉलोअर्स भारी संख्या में शेयर करते हैं।

कई लोगों की कर चुकी हैं मदद

कई लोगों की कर चुकी हैं मदद
via

स्मिता मार्च 2015 से अभी तक कई लोगों की मदद कर चुकी हैं। स्मिता के काम की उनके विभाग के लोग भी खुले दिल से तारीफ करते हैं।

सोशल मीडिया सेल में कर रही हैं काम

सोशल मीडिया सेल में कर रही हैं काम
via

पुलिस विभाग ने स्मिता के काम को देखते हुए उन्हें मीडिया सेल में रखा है। साथ ही महिला हेल्पलाइन की जिम्मेदारियों को भी संभाल रही हैं स्मिता। 

केवल खूबसूरती नहीं, काम के कारण बजा है डंका

केवल खूबसूरती नहीं, काम के कारण बजा है डंका

स्मिता के बारे में सबसे ख़ास बात यह है कि चायवाले या सब्जीवाली की तरह केवल खूबसूरती उनकी इस प्रसिद्धि की वजह नहीं है। उन्हें लोगों के बीच सम्मान व नाम मिल रहा है उनके नेक काम की वजह से। 

प्रेरणा हैं स्मिता

प्रेरणा हैं स्मिता

हम लोगों में से अधिकतर फेसबुक पर काफी समय देते हैं। ऐसे में हम फेसबुक का इस्तेमाल ऐसे उद्देश्यों के लिए भी कर सकते हैं जिससे समाज में हमारा योगदान थोड़ा और बढ़ सके। इसी बात की एक मिसाल व प्रेरणा हैं स्मिता टांडी। 

आप भी इनके फेसबुक पेज को देखें और इनकी मदद करें जरूरतमंदों की सहायता करने में। इनके फेसबुक पेज में जाने के लिए यहाँ क्लिक करें- स्मिता टांडी। 

SPONSORED

क्या आप भी इस नेक काम में स्मिता की मदद करेंगे?