SPONSORED

अगर शाहजहाँ ने जो चाहा था वो हो जाता तो हमारे पास होता एक और ताजमहल

शाहजहाँ बनवाना चाहते थे ब्लैक ताजमहल

अगर शाहजहाँ ने जो चाहा था वो हो जाता तो हमारे पास होता एक और ताजमहल
SPONSORED

'सिर्फ इशारों में होती मोहब्बत अगर, इन अल्फ़ाज़ों को खूबसूरती कौन देता? बस पत्थर बन के रह जाता "ताज महल", अगर इश्क़ इसे अपनी पहचान न देता'
ताजमहल अपनी खूबसूरती के अलावा इसलिए भी ख़ास है क्योंकि यह मोहब्बत की निशानी कहलाता है। मुझे तो नहीं लगता ऐसा कोई शख़्स होगा जिसे इश्क़ पर भरोसा हो और ताजमहल से मोहब्बत ना हो। हमारे पास अभी एक ही ताजमहल है और वो यकीनन हमारा ग़ुरूर है। लेकिन सोचिए अगर हमारे पास दो ताजमहल होते तो अहसास कैसा होता? अरे मैं कोई मज़ाक नहीं कर रही हूँ। वाकई हमारे पास एक और ताजमहल हो सकता था, 'ब्लैक ताजमहल'। 

आइये जानते हैं क्यों नहीं बन पाया "ब्लैक ताजमहल"।

SPONSORED

शाहजहाँ के कुछ और थे इरादे

शाहजहाँ के कुछ और थे इरादे

इतिहासकारों और विद्वानों का मानना है कि शाहजहाँ कभी नहीं चाहते थे कि उन्हें मुमताज़ के पास दफनाया जाए। वे कुछ बहुत बड़ा प्लान कर रहे थे जिसके आगे दुनिया की सारी इमारतें फीकी पड़ जाए। आखिर क्या चाहते थे शाहजहाँ?

RELATED STORIES

द ब्लैक ताजमहल

द ब्लैक ताजमहल
via

ऐसा कहा जाता है कि शाहजहाँ चाहते थे कि ताजमहल की एक प्रतिकृति बनाई जाए, जिसका रंग सफ़ेद ताजमहल से बिलकुल उलट हो। वे यह ब्लैक ताजमहल उन्ही मज़दूरों से बनवाना चाहते थे जिन्होंने सफ़ेद ताजमहल बनाया था। शाहजहाँ यह ताजमहल खुद के लिए बनवाना चाहते थे।


बेटे कि वजह से अधूरा रहा निर्माण

बेटे कि वजह से अधूरा रहा निर्माण
via

शाहजहाँ के तीन बेटे थे- दारा शिकोह, शाह शुजा, और औरंगज़ेब। इतिहास में सबसे ज़्यादा औरंगजेब का ही ज़िक्र  किया जाता है। औरंगजेब के शाहजहाँ और अपने भाइयों से बहुत ही ख़राब सम्बन्ध थे। उसने राज्य प्राप्त करने के लिए अपने पिता को ही काल कोठरी में डाल दिया था। इसी वजह से शाहजहाँ के राज में होने वाले सारे निर्माण कार्य अधूरे रह गए थे।

ब्लैक ताजमहल भी रह गया अधूरा

ब्लैक ताजमहल भी रह गया अधूरा
via

कुछ इतिहासकारों का यह भी मानना है कि यमुना नदी के दूसरे किनारे पर जो ब्लैक मार्बल्स पड़े है वो अधूरे बने ब्लैक ताजमहल के अवशेष हैं। लेकिन इस बात में कितनी सच्चाई है, इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता ।

SPONSORED

ताजमहल जैसी इमारतें और भी हैं 

ताजमहल जैसी इमारतें और भी हैं 
via

ब्लैक ताजमहल तो बन नहीं पाया पर अब भी दुनिया में लगभग 7 ऐसी इमारतें हैं जो हूबहू ताजमहल की प्रतिकृति है। जो मुख्य रूप से उत्तरप्रदश, दुबई, चीन, महाराष्ट्र और कैलिफ़ोर्निया में स्तिथ हैं। लेकिन वे ताजमहल की प्रतिकृति ही है, कभी ताजमहल नहीं बन सकते।

ताजमहल है लाजवाब

ताजमहल है लाजवाब
via

वैसे हमे एक और ताजमहल न मिल पाने का कोई खेद नहीं करना चाहिए। हमारा एक ताजमहल ही सौ से बेहतर है।

SPONSORED

क्या आप भी ताजमहल को "मोहब्बत की निशानी" मानते हैं?