SPONSORED

खुशखबरी: ट्रेन में रिज़र्वेशन मिलना अब हुआ और भी आसान

हर स्टेशन पर होगी वेटिंग क्लियर। 

SPONSORED

खाली सीटों के सम्बन्ध में है फैसला

खाली सीटों के सम्बन्ध में है फैसला

रेलवे मंत्रालय ने अपनी घोषणा में कहा है कि जिस स्टेशन से ट्रेन रवाना होती है उस स्टेशन पर अगर सीट्स खाली रह जाती है तो वो अपने आप ही अगले स्टेशन के वेटिंग लिस्ट वाले यात्रियों के लिए ट्रांसफर हो जाएगी।

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

यात्रियों को दी जाएगी सूचना

यात्रियों को दी जाएगी सूचना
via

एक स्टेशन पर अगर सीट खाली रह जाती है तो अगले स्टेशन वाले जिस भी यात्री को यह सीट मिलेगी, उसे मैसेज के माध्यम से कनफर्म्ड सीट की सूचना दे दी जाएगी।

चैन सिस्टम की तरह करेगा काम

चैन सिस्टम की तरह करेगा काम
via

यह योजना एक चैन सिस्टम की तरह काम करेगी। पहले स्टेशन पर टी.टी.ई. यहाँ से चढ़े यात्रियों की सूची बनाकर खाली सीटों की जानकारी अगले स्टेशन पर देगा। यही प्रक्रिया अगले स्टेशन पर भी दोहराई जाएगी और खाली सीटों की जानकारी पुनः अगले स्टेशन को भेजी जाएगी। ऐसा तब तक होगा जब तक की खाली सीट्स भर न जाए।

'पूल्ड कोटा' बन रहा था दिक्कत

'पूल्ड कोटा' बन रहा था दिक्कत
via

रेलवे रिजर्वेशन सिस्टम में कुछ यात्रियों को 'पूल्ड कोटा' दिया जाता है। अब तक सफर के दौरान सिर्फ इन्हीं यात्रियों को सीट दी जाती थी। यात्रा के दौरान कुछ स्टेशन्स को 'पूल्ड कोटा' दिया जाता है। इसका मतलब है कि सिर्फ इन्ही स्टेशन्स के यात्रियों को खाली सीट अलॉट की जाती है।

हर साल रह जाती है लाखों सीटें खाली 

हर साल रह जाती है लाखों सीटें खाली 
via

हमारे देश की ट्रेनों में रिजर्वेशन की बहुत ज्यादा डिमांड रहती है, यात्री वेटिंग में भी सफर करते हैं। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि हमेशा ही सीट्स पूरी तरह भर जाती हैं। जबकि सिस्टम में गड़बड़ी के कारण हर साल लगभग 3 लाख सीट्स खाली ही रह जाती हैं। 

टी.टी.ई. की मनमानी होगी कम

टी.टी.ई. की मनमानी होगी कम
via

अभी तक रेलवे विभाग ने टी.टी.ई. को खाली सीट्स भरने का अधिकार दे रखा था। लेकिन दूसरी रिजर्वेशन लिस्ट बनने के बाद सिस्टम का इस पर कोई कंट्रोल नहीं रहता था और टी.टी.ई. अपनी मनमानी से सीट्स अलॉट कर देते थे।

यात्रियों के लिए है ख़ुशी की खबर

यात्रियों के लिए है ख़ुशी की खबर
via

जो लोग अक्सर ही यात्रा करते रहते हैं और उन्हें वेटिंग की समस्या का सामना करना पड़ता है। उन्हें इस फैसले से बहुत फायदा होगा। साथ ही अन्य सभी यात्रियों को भी इससे फायदा होगा और रिजर्वेशन मिलने में आसानी होगी।

SPONSORED

क्या सरकार के इस कदम से ट्रेनों में टी.टी.ई. की मनमानियों में रोक लगेगी?