SPONSORED

नरेंद्र मोदी की माता जी भी आम जनता की तरह पहुँची बैंक, लाइन में खड़े होकर किया अपनी बारी का इंतज़ार

नरेंद्र मोदी की माँ हीराबेन पहुँची अपने पुराने नोट बदलवाने। 

SPONSORED

94 वर्षीय हीराबेन पहुँची बैंक

94 वर्षीय हीराबेन पहुँची बैंक

यह 94 वर्षीय हीरा बेन और कोई नहीं बल्कि नरेंद्र मोदी की माताजी है। वे इतनी अधिक उम्र में भी अपने नजदीकी बैंक में खुद रुपये बदलवाने गयी।

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

व्हीलचेयर से गयी थी 'बा'

व्हीलचेयर से गयी थी 'बा'

हीरा बा की उम्र इतनी ज्यादा है कि उन्हें चलने में भी दिक्कत होती है। लेकिन फिर भी वे व्हील चेयर पर बैठकर गांधीनगर के बैंक में गयी।

पोज़ भी दिया हीराबेन ने 

पोज़ भी दिया हीराबेन ने 

बैंक से रुपये लेने के बाद हीराबेन ने 2000 के नोट के साथ पोज़ भी दिया। बैंक में उनके आने से काफी भीड़ जमा हो गयी थी।

अपनी बारी का इंतज़ार भी किया उन्होंने

अपनी बारी का इंतज़ार भी किया उन्होंने

हीराबेन ने बाकायदा लाइन में लगकर अपनी बारी का इंतज़ार किया। खबर के अनुसार उन्होंने 4500 रुपये के नोट बदलवाए है।

नरेंद्र मोदी ने दिया था भावुक भाषण

नरेंद्र मोदी ने दिया था भावुक भाषण

इस सम्बन्ध में नरेंद्र मोदी ने एक भावुक कर देने वाला भषन दिया था। उन्होंने जनता को होने वाली समस्यों का खेद है और वो पूरी कोशिश कर रहे है सभी समस्याएं जल्द से जल्द दूर हो जाए।


सभी के लिए है प्रेरणा

सभी के लिए है प्रेरणा

बेशक हम लोगो को बहुत दिक्कते झेलनी पड़ रही है। लेकिन हमे हीराबेन से प्रेरणा लेनी चाहिए। अगर भविष्य में कुछ अच्छा होने वाला है तो वर्तमान में थोड़ा कष्ट झेलने में कोई हर्ज़ नहीं है। यह एक बड़ा कदम है इसलिए चीज़ो को ठीक होने में समय लगेगा।

SPONSORED

क्या हीराबेन का आम लोगों की तरह बैंक पर लाइन में लगना जनता के बीच अच्छा सन्देश देने में मददगार होगा?