SPONSORED

रिलेशनशिप में इन 7 बातों को बर्दाश्त कर पाना लड़की के लिए होता है मुश्किल  

लड़की के साथ रिलेशनशिप में हैं तो जान लें ये बातें। 

रिलेशनशिप में इन 7 बातों को बर्दाश्त कर पाना लड़की के लिए होता है मुश्किल  
SPONSORED

रिलेशनशिप में रहना और रिलेशन को अच्छे से चलाना इतना भी आसान नहीं है। भले ही रिश्ते की शुरुआत में ढेर सारा आनंद हो लेकिन उस रिश्ते को सही मुकाम तक ले जाने के लिए कई बाधाएं आती हैं। रिश्ते में सबसे ज़्यादा ज़रुरी है विश्वास।आप दोनों का एक दूसरे पर विश्वास होना बहुत ज़रूरी है। 
एक लड़के के साथ रिलेशनशिप के दौरान लड़कियां सिर्फ उसी पर निर्भर हो जाती हैं। वे अपने पार्टनर पर आंख बंद कर के भरोसा करने लगती हैं। ऐसे में लड़कियां ये नहीं चाहती कि उसका पार्टनर उसके भरोसे को कभी भी तोड़े या कोई भी ऐसी चीज़ करे जो उसकी सहनशीलता के बाहर हो। 
आइये हम जानने की कोशिश करते हैं कुछ ऐसी चीज़ों के बारे में जो लड़कियां कभी-भी बर्दाश्त नहीं कर सकती । 


SPONSORED

निरादर 

निरादर 

यदि लड़की आपका आदर करती है और आप उसको इज़्ज़त नहीं दे पाते हैं तो आपको सँभलने की ज़रुरत है। यदि आप लड़की का निरादर करेंगे तो कोई भी लड़की लम्बे समय तक सहन नहीं कर पाएगी।  

RELATED STORIES

शारीरिक शोषण 

शारीरिक शोषण 

लड़की आपके साथ इस लिए जुड़ी हुई हैं ताकि आप उसे शांति और प्रेम दें। यदि आप उसके साथ मार-पीट या किसी भी प्रकार का शारिरिक शोषण करते हैं तो लड़की कभी भी बर्दाश्त नहीं करेगी। 

भावनात्मक शोषण 

भावनात्मक शोषण 

शारीरिक शोषण से भी ज़्यादा दिल दुखता है मानशिक और भावनात्मक शोषण से। किसी भी लड़की की भावनाओं के साथ खेलना बिलकुल सही नहीं है। लंबे समय तक किसी भी लड़की की भावनाओं को ठेस पहुचेगी तो लड़की सहन नहीं करेगी। 

असामान्यता 

असामान्यता 

लड़की हमेशा चाहती है कि उसका पार्टनर उसे प्राथमिकता दे। यदि लड़का अपनी पार्टनर को दूसरों के सामने नीचा दिखाता है तो ऐसे रिश्ते का कोई मतलब नहीं है। 

धोका 

धोका 

धोका तो सबसे गंभीर विषय है, बड़े-बड़े रिश्ते इसी धोके की वजह से नष्ट हो चुके हैं। लड़की सब कुछ बर्दाश्त कर सकती है लेकिन उसका पर्टनर यदि उसके साथ छल करेगा, तो यह बात लड़की कभी भी बर्दाश्त नहीं कर सकती। 

SPONSORED

असत्यता 

असत्यता 

झूट एक बहुत ही आम सी चीज़ है कभी न कभी हम स्तिथि से बचने के लिए भी झूठ बोल देते हैं। झूठ बोलना एक आम बात है लेकिन रोज़ झूठ बोलना एक अलग बात है। यह रिश्ता एक दूसरे के सुख-दुःख बाटने के लिए होता है। आप अपने सुख दुःख छुपाओगे और झूठ बोलोगे तो उसे लगेगा की आपकी नज़रों में उसकी कोई अहमियत नहीं है। 

कम बात-चीत 

कम बात-चीत 

बात करने से आमतौर पर सभी उलझने सुलझ जाती हैं। लेकिन यदि किसी लड़की का पार्टनर उससे कम बात करेगा तो एक समय पर आकर लड़की अकेला महसूस करने लगेगी  और लड़कियों को अकेलापन खा जाता है। 

अपने रिश्ते को सही दिशा में लें जाएं 

अपने रिश्ते को सही दिशा में लें जाएं 

लड़कियों के साथ रिश्ते में रहने से पहले उपरोक्त बातों का ध्यान अवश्य रखें। लड़कियों का दिल लड़को से थोड़ा विपरीत होता है। सोचने और समझने का सलीका भी थोड़ा अलग होता है। इसलिए बेहतर है कि लड़के अपनी पार्टनर को समझने की कोशिश करें और अपने रिश्ते को सही दिशा दें। 
Photos Source- WikiHow

SPONSORED

क्या आपको लगता है कि लड़कों की अपेक्षा में लड़कियां बहुत ज़्यादा पॉसेसिव होती हैं?