आपकी गर्लफ्रेंड को रहती है हर डेट याद, क्या आप जानते हैं क्यों?

एक युनिवर्सिटी ने किया चौंका देने वाला खुलासा। 

आपकी गर्लफ्रेंड को रहती है हर डेट याद, क्या आप जानते हैं क्यों?
SPONSORED

मैं जानता हूँ कि आपकी गर्लफ्रेंड आपको हर बार "डेट" के चक्कर में बहुत बातें सुनाती होगी। आप कितनी भी कोशिश कर लें आपको कभी डेट याद ही नहीं रहती, वहीं दूसरी ओर आपकी गर्लफ्रेंड को आपके साथ-साथ, आपके परिवार वालों की जन्म तारीख भी याद रहती है। कभी सोचा है आपने कि आपकी गर्लफ्रेंड को इतनी सारी डेट कैसे याद रहती है।

दरअसल यह कोई दिल का मामला नहीं हैं बल्कि केमिकल लोचा है जो दिमाग में होता है। आइये जानते हैं इस केमिकल लोचे के बारे में।   

लड़कियां, लड़कों की तुलना में होती हैं ज़्यादा भावुक 

लड़कियां, लड़कों की तुलना में होती हैं ज़्यादा भावुक 

कहा जाता है कि लड़कियां, लड़कों की तुलना में ज़्यादा भावुक होती हैं। लड़कियां छोटी-छोटी बातों पर रो देती हैं। मगर कुछ लोग इसे दिल का मामला समझते हैं बल्कि यह असल में दिमाग़ का मामला है। एक रिसर्च के अनुसार लड़कों और लड़कियों के दिमाग़ की नसों की बनावट बिलकुल अलग होती है इसलिए चीज़ों को समझने का तरीका भी अलग होता है।   

RELATED STORIES

दो हिस्सों में बटा होता है इंसान का दिमाग 

दो हिस्सों में बटा होता है इंसान का दिमाग 
via

इंसानी दिमाग, दो हिस्सों में बटा होता है। दिमाग का दायां हिस्सा शरीर के बायें हिस्से को संभालता है। यानी सीधे हाथ से लिखने वालों के दिमाग का बायां हिस्सा ज़्यादा सक्रिय होता है। इसके अलावा हर हिस्से में अलग-अलग काम का बटवारा भी होता है, इन हिस्सों के अंदर नसों की बनावट कुछ ऐसी होती है कि दिमाग अलग-अलग अहसास समझ सके।

महिलाओं के दिमाग़ के दोनों हिस्से एक दुसरें से बेहतर रूप से जुड़े होते हैं  

महिलाओं के दिमाग़ के दोनों हिस्से एक दुसरें से बेहतर रूप से जुड़े होते हैं  
via

कुछ इस कारण भी पुरुष महिला से अलग होते हैं क्योंकि एक रिसर्च में पाया गया है कि लड़कियों के दिमाग के दोनों हिस्से एक दुसरें से मज़बूती से बंधे होते हैं। जिसके कारण एक हिस्सा, दुसरे हिस्से तक सूचना पहुंचा सकता है।  

पुरुषों का दिमाग़ ऐसा नहीं होता 

पुरुषों का दिमाग़ ऐसा नहीं होता 
via

महिला की तुलना में पुरुष का दिमाग़ अलग होता है। पुरुषों के दिमाग के दोनों सिरे एक दुसरें से मज़बूती से बंधे नहीं होते वैसे इसमें पुरुषों के लिए मायूस होने वाली कोई बात नहीं है। पुरुषों के दिमाग़ में सुचना का प्रवाह महिलाओं के दिमाग़ से कहीं ज़्यादा बेहतर होता है।   

"डिफ्यूजन-टेंशन-इमेजिंग" तकनीक का उपयोग कर शोध किया गया 

via

इंसानी दिमाग़ को अच्छे से समझने के लिए "डिफ्यूजन-टेंशन-इमेजिंग" तकनीक का इस्तेमाल कर के एक शोध किया गया। टीम ने 949 लोगों के दिमाग़ पर तकनीक का उपयोग किया, इनमें 8 से 22 साल के 428 पुरुष और 521 महिलाएं थीं।

पुरुषों के दिमाग़ में तीव्रता ज़्यादा होती है 

पुरुषों के दिमाग़ में तीव्रता ज़्यादा होती है 
via

महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में फैसले लेने की क्षमता ज़्यादा होती है। हवा में उछली बोल को कैच करने या सड़क पर अचानक किसी के आ जाने से ब्रेक लगाने का निर्णय लेना पुरुष ज़्यादा जल्दी ले लेते हैं। पुरुषों का दिमाग़ अति तीव्र चलता है इसलिए अक्सर अहम फ़ैसलों का निर्णय पुरुष ही लेते हैं।     

लड़कियाँ चेहरे और नाम याद रखने में ज़्यादा सक्षम होती हैं 

लड़कियाँ चेहरे और नाम याद रखने में ज़्यादा सक्षम होती हैं 
via

पुरुषों की अपेक्षा महिलाएं नाम और चेहरे याद रखने में ज़्यादा माहिर होती हैं। क्योंकि उनके दिमाग़ की रचना कुछ इसी प्रकार होती है। इसलिए अब सालगिराह की तारीख याद न रहने पर अपने बॉयफ्रेंड या पति से लड़ियेगा नहीं बल्कि समझिये। और भी अन्य ऐसी जानकारी हासिल करने के लिए यहाँ क्लिक करें।