SPONSORED

राज्यसभा में मनमोहन सिंह ने साधा प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना, गिनाई नोटबंदी की दस खामियां 

पूर्व प्रधानमन्त्री मनमोहन सिंह ने नोटबंदी के विरोध में दिया भाषण। 

SPONSORED

कुप्रबंधन का बहुत बड़ा उदाहरण है ये  

कुप्रबंधन का बहुत बड़ा उदाहरण है ये  

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नोटबंदी के फैसले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि वे इस फैसले के उद्देश्यों से असहमत नहीं है लेकिन यह कुप्रबंधन का बहुत बड़ा नमूना है इसे लेकर पूरे देश में कोई दो राय नहीं है।  

RELATED STORIES

SPONSORED
SPONSORED

अंतिम परिणाम का नहीं लगाया जा सकता अनुमान 

अंतिम परिणाम का नहीं लगाया जा सकता अनुमान 
via

उन्होंने यह भी कहा कि नोटबंदी के इस फैसले से कृषि और आर्थिक विकास के क्षेत्र में क्या अंतिम परिणाम होंगे इसका अनुमान तो मैं नहीं लगा सकता, लेकिन इस कदम के परिणामस्वरूप देश की जीडीपी में 2% की कमी जरूर आएगी।  

50 दिन नहीं होते कम 

50 दिन नहीं होते कम 
via

उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री जी ने अपने भावुक कर देने वाले भाषण में कहा था कि सिर्फ 50 दिन की ही बात है। लेकिन असल में गरीब और वंचित लोगों के लिए 50 दिन भी विनाशकारी होते हैं। 

निंदा के लिए एक पंक्ति ही है काफी 

निंदा के लिए एक पंक्ति ही है काफी 
via

देश की जनता ने बैंकों में पैसा जमा कराए, लेकिन उन्हें निकाल नहीं सकते, यह एक पंक्ति ही इस फैसले के बारे में बहुत कुछ कह देती है। इससे ज्यादा इसकी क्या निंदा होगी।  

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया की गिर रही है साख 

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया की गिर रही है साख 
via

इस फैसले के लागू होने के बाद से ही पी.एम.ओ. और आर.बी.आई हर रोज नए-नए नियम ला रही है। जिससे देश की जनता के सामने इनकी छवि बिगड़ रही है। मुझे इस बात का खेद है लेकिन यह जायज़ भी है। 

प्रधानमंत्री को लाना होगा रचनात्मक प्रस्ताव 

प्रधानमंत्री को लाना होगा रचनात्मक प्रस्ताव 
via

उन्होंने प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी को सुझाव देते हुए कहा कि उन्हें लोगों की परेशानियों को दूर करने के उद्देश्य से इस योजना के क्रियान्वयन के लिए रचनात्मक प्रस्ताव पेश करने की जरुरत है। 

संगठित लूट है यह 

संगठित लूट है यह 
via

मनमोहन सिंह ने अपने भाषण में नोटबंदी को संगठित और वैध लूट करार दिया।  

अब भी उम्मीद है उन्हें मोदी से 

अब भी उम्मीद है उन्हें मोदी से 
via

मनमोहन सिंह ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि प्रधानमंत्री जनता की परेशानियों को दूर करने के लिए व्यवहारिक कदम ढूंढ कर लाएंगे।  

बैंकिंग सिस्टम से उठ सकता है जनता का भरोसा 

बैंकिंग सिस्टम से उठ सकता है जनता का भरोसा 
via

उनका यह भी मानना है कि जनता की शिकायतों पर ध्यान दिया जाना चाहिए। पिछले कुछ दिनों में इस बेन की वजह से कई लोगों की जाने जा चुकी हैं। यह जो कुछ भी हो रहा है इसके फलस्वरूप करेंसी और बैंकिंग सिस्टम से जनता का भरोसा उठ सकता हैं।   

समर्थकों को याद दिलाया 'In the long run, we are all dead'

समर्थकों को याद दिलाया 'In the long run, we are all dead'
via

उन्होंने नोटबंदी के समर्थकों पर निशाना साधते हुए कहा कि समर्थक मान रहे है कि यह फैसला आगे जाकर फायदे का सौदा साबित होगा। लेकिन जो लोग ऐसा मान रहे है वो याद कर ले कि 'In the long run, we are all dead' . 

SPONSORED

क्या पूर्व प्रधानमन्त्री श्री मनमोहन सिंह जी की इन बातों से आप सहमत हैं?