₹500 के नए नोटों में सामने आई गड़बड़ी, आर.बी.आई. नें दी सफाई 

देखिये क्या है गड़बड़। 

₹500 के नए नोटों में सामने आई गड़बड़ी, आर.बी.आई. नें दी सफाई 
SPONSORED

जब से ₹500 और ₹2000 के नोट बाज़ार में आये हैं, उनसे जुड़े कई खुलासे हो रहे हैं। जिनमें से अधिकांश महज़ एक अफवाह ही साबित हुई मगर कुछ ऐसी ख़बरें भी सामने आई जिसमे चौंका देने वाला सच देखने को मिला। ₹2000 के नोट के बारे में तो बाज़ार में बहुत सारी ख़बर सामने आई, मगर ₹500 के नोट की यह पहली खबर है। कहा जा रहा है ₹500 के बाज़ार में तीन तरह के नोट घूम रहे हैं। आइये जानते हैं पूरा मामला क्या है...

क्या ऐसी गलती को नज़रअंदाज़ किया जा सकता है? 

क्या ऐसी गलती को नज़रअंदाज़ किया जा सकता है? 

नोट बदलने के सबसे अहम कारणों में से एक जाली नोटों का खात्मा करना भी है मगर जब असली नोट ही तीन तरह के होंगे तो इससे जाली नोट का खात्मा किस तरह हो पाएगा? और किस तरह हम असली नोट की पहचान कर पाएँगे?    

RELATED STORIES

राष्ट्रीय चिन्ह में फर्क 

राष्ट्रीय चिन्ह में फर्क 

जानकारों के अनुसार राष्ट्रीय चिन्ह में भी तीनों नोटों में काफी फर्क है। अगर आप गौर से देखेंगे तो आपको भी यह फर्क आसानी से दिख जाएगा।

गांधी जी की डबल शेडो 

गांधी जी की डबल शेडो 

एक नोट में गांधी जी की डबल शेडो दिखाई दे रही है और दूसरे नोट में नहीं दिखाई दे रही है। इसे भी दोनों नोट में एक बड़ा फर्क माना जा रहा है।

सीरियल नंबर में भी गड़बड़ 

सीरियल नंबर में भी गड़बड़ 

वहीं जानकारों के अनुसार नोट के सीरियल नंबर में भी गड़बड़ की आशंका जताई जा रही है। अब यह अंतर क्यों रखा गया है इसका जवाब तो आर.बी.आई. ही बेहतर तरीके से दे पाएगी।    

नोट के बॉर्डर में भी 

नोट के बॉर्डर में भी 

वहीं नोट के बॉर्डर पर भी गड़बड़ी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। इस नोट में साफ़ प्रिंटिंग मिस्टेक लग रही है, इसकी बॉर्डर सही तरीके से नहीं मिल रही है।

दोनों के कलर भी हैं अलग 

दोनों के कलर भी हैं अलग 

दोनों के कलर भी है अलग-अलग हैं। दूर से देखने पर ही लग रहा है कि यह दोनों नोटों का कलर एक दूसरे से काफी अलग है। एक डार्क है तो एक लाइट है।

रिजर्व बैंक का क्या कहना है?

रिजर्व बैंक का क्या कहना है?
via

इस मामले में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की प्रवक्ता अल्पना किलावाला ने कहा, ऐसा लगता है कि नोटों को लेकर ज्यादा मारामारी के चलते डिफेक्टेड प्रिंट वाले नोट्स भी जारी हो गए। हालांकि, लोग इसे बिना शक स्वीकार करें या इसे आरबीआई को वापस लौटा दें।

नकली नोट चलाने वाले उठा सकते हैं इसका फायदा 

नकली नोट चलाने वाले उठा सकते हैं इसका फायदा 
via

नए नोटों की गड़बड़ी पर विशेषज्ञों का मानना है कि नकली नोट चलाने वाले ऐसी उलझन का फायदा उठा सकते हैं। लोग नए फीचर को तुरंत नहीं समझ पाएंगे, ऐसे में नकली नोट भी रख सकते हैं। उमीद है सरकार इस पर कोई ठोस कदम उठाएगी।  

क्या ₹500 के नए नोटों में सामने आई यह गड़बड़ी सरकार की घोर लापरवाही दर्शाती है?