SPONSORED

पीरियड्स के दौरान अगर रखेंगे इन बातों का ध्यान तो नहीं होगी तकलीफ..

पीरियड्स की समस्या से पाए आराम । 

पीरियड्स के दौरान अगर रखेंगे इन बातों का ध्यान तो नहीं होगी तकलीफ..
SPONSORED

इस आधुनिक दौर में पीरियड्स के बारे में लोग खुलकर बात करने से कतराते हैं। इसी वजह से बहुत सी बातें हमें पता ही नहीं चल पातीं। पीरियड्स के दौरान जानकारी के अभाव में कई बार कुछ ऐसी गलतियां हो जाती हैं, जिसका सेहत पर बुरा असर पड़ता है। पीरियड्स हर महिला को होनेवाली समस्या है। पीरियड्स के दौरान महिलाओं को पेट दर्द और कमर दर्द से भी जूझना पड़ता है। पीरियड्स के दिनों की तकलीफ के बारे में शिकायत तो लगभर हर महिला करती है लेकिन उन दिनों में किस तरह से रहना चाहिए और क्या करना चाहिए, इस बात पर शायद ही कोई महिला गौर करती हो।

आईये जानते है पीरियड्स के दौरान ख़्याल रखनेवाली उन्ही कुछ बातों के बारे में,

SPONSORED

सही सैनेटरी पैड का इस्तेमाल करें 

सही सैनेटरी पैड का इस्तेमाल करें 

पीरियड्स के दिनों में सही सैनेटरी पैड का इस्तेमाल करना बहुत ज़रूरी है। सैनेटरी पैड ऐसा होना चाहिए जो फ्लो को जल्दी और आसानी से सोख ले। इसके साथ ही हर छह घंटे के बाद पैड को बदलना चाहिए ताकि इससे किसी तरह का इन्फेक्शन न हो सके। पैड को किसी भी ऐसी जगह ना फैकें जहाँ पेड़ पौधे या जानवर हों क्यूंकि यह दूसरे जानवरों के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है।

RELATED STORIES

साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखें

साफ़-सफ़ाई का ध्यान रखें
via

वैसे तो हमें अपने शरीर की साफ-सफाई का हमेशा ही ध्यान रखना चाहिए लेकिन पीरियड्स के दौरान महिलाओं को अपनी साफ-सफाई पर ज़्यादा ध्यान देना चाहिए। अपने प्राइवेट पार्ट्स की साफ़-सफ़ाई अच्छे से करनी चाहिए और हो सके तो पीरियड्स के दौरान गर्म पानी से नहाना चाहिए। ऐसा करने से इन्फेक्शन का खतरा कम हो जाता है।

पीरियड्स के दिनों में अपनी चादर को बदलते रहें

पीरियड्स के दिनों में अपनी चादर को बदलते रहें
via

गंदगी और इन्फेक्शन से बचने के लिए अपनी चादर बदलती रहें। चादर को धोने के लिए डेटॉल या किसी भी दूसरे सैनेटाइज़र का इस्तेमाल करें। इसके अलावा अपने इनरवियर को भी बदलती रहें। जिन लड़कियों को ज़्यादा पसीना आता है वो जितना ज़्यादा अपना इनर वियर बदलेंगी (बजाए उन्हें पूरे दिन पहनने के) उतना ही उन्हें आराम महसूस होगा।

केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स से बचें

केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स से बचें
via

पीरियड्स के दौरान किसी क्रीम या जेल जैसे केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। पीरियड्स के समय ऐसी चीज़ों का इस्तेमाल करने से इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है क्योंकि इन दिनों किसी भी बाहरी चीज़ के इस्तेमाल से आपको नुकसान हो सकता है।

दवाइयों के इस्तेमाल से परहेज़ करें

दवाइयों के इस्तेमाल से परहेज़ करें
via

पीरियड्स के समय दवाइयों का ज़्यादा इस्तेमाल करना हानिकारक हो सकता है। कई महिलाएं इन दिनों में पेट के दर्द से छुटकारा पाने के लिए दवाईयों का सेवन करती हैं। लेकिन दवाइयों के सेवन से पीरियड्स पूरी तरह से नहीं आते हैं, सिर्फ पेट दर्द से आराम मिलता है। यदि आपको ज़्यादा परेशानी हो तो डॉक्टर से पूछना चाहिए।

SPONSORED

डायट का ख़्याल रखना चाहिए

डायट का ख़्याल रखना चाहिए
via

पीरियड्स के दिनों में महिलाओं को ज़्यादा मसाले वाले भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए। खाने-पीने में दही और ठंडी चीज़ों का इस्तेमाल करना चाहिए। हेल्दी भोजन के साथ ही हरी सब्ज़ियों और फलों का सेवन करना चाहिए। बाहर का कुछ भी चीज़ नहीं खानी चाहिए।

ज़्यादा व्यायाम न करें

ज़्यादा व्यायाम न करें
via

पीरियड्स के दिनों में महिलाओं को ज़्यादा व्यायाम नहीं करना चाहिए। खा़सकर पहले दो दिनों में तो बिल्कुल कम ही करना चाहिए। ज़्यादा भागदौड़ से परहेज़ करना चाहिए। जिन महिलाओं को पेट मे दर्द की समस्या रहती है उन्हें पेट के बल कोई भी एक्सरसाइज़ नहीं करनी चाहिए।


कसरत के बाद गुप्तांगो को साफ करना न भूलें

कसरत के बाद गुप्तांगो को साफ करना न भूलें
via

अगर आप पीरियड के दिनों में योगा या किसी भी प्रकार की माइल्ड कसरत करती हैं तो कपड़े बदलना और नहाना न भूलें। कसरत करने से पसीना इकट्ठा हो जाता है जिससे बैक्टिरियल इन्फेक्शन हो सकता है। बहरहाल हर महिला को पीरियड्स के दौरान इन बताई गई बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। अगर बावजूद इसके आपको किसी भी तरह की समस्या होती है तो फिर इसे नज़रअंदाज़ करने की बजाय डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

SPONSORED

पुराने लोगों का मनना था की पीरियड्स के दिनों में महिलाओं को रसोई के काम नहीं करना चाहिए, क्या आप इस विचार से सहमत हैं?