नोटबंदी - बैंक से पैसे निकालने की अधिकतम सीमा बढ़ी, वैध नोट जमा करने पर निकाल सकेंगे अधिक पैसे 

आर.बी.आई. ने जारी किये दिशा-निर्देश।  

नोटबंदी - बैंक से पैसे निकालने की अधिकतम सीमा बढ़ी, वैध नोट जमा करने पर निकाल सकेंगे अधिक पैसे 
SPONSORED

8 नवम्बर को देश में ₹ 500 और ₹1000 के नोट्स के बैन होने की घोषणा के साथ ही देश की अर्थव्यस्था काफी हद तक गड़बड़ा गई थी। आम  जनता के साथ ही व्यापारियों के लिए भी यह फैसला कई मुसीबतें लेकर आया था। बाज़ार में नए नोट आ जाने के बाद जनता के हाथ में ज्यादा पैसा नहीं है। क्योकि बैंक और एटीएम से राशि निकालने पर लिमिट लगी हुई है। 

ऐसे में लोगों के पास ₹500 व ₹2000 के नए नोट आ जाने के बाद वे उन्हें बैंक में जमा करने से बचते हुए दिख रहे थे। इस स्थिति के समाधान के तौर पर आर.बी.आई. ने पैसे निकालने के नियमों में कुछ संशोधन किये हैं, जो आम लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। 

आइये जानते है आर.बी.आई. के इस नए आदेश में क्या-क्या ख़ास बातें है।  

वैध करेंसी में जमा की है तो निकाल पाएंगे ज्यादा राशि 

वैध करेंसी में जमा की है तो निकाल पाएंगे ज्यादा राशि 

सोमवार को जारी आर.बी.आई के नए आदेश में शीर्ष बैंक ने वर्तमान समय में वैध करेंसी में राशि जमा करने वालों को राहत दी है। आर.बी.आई. के अनुसार  ऐसे जमाकर्ता जिन्होंने वैध करेंसी में राशि जमा की है, वे बैंक में कितनी भी राशि  निकाल सकते हैं। उनपर कोई रोक नहीं होगी।

RELATED STORIES

24,000 रुपये निकालने की सीमा अब भी रहेगी जारी 

24,000 रुपये निकालने की सीमा अब भी रहेगी जारी 
via

गौरतलब है कि नोटबंदी के बाद से ही 30 दिसम्बर तक हर हफ्ते अधिकतम 24,000 रुपये ही बैंक से निकालने की  सीमा निर्धारित थी। इस नए आदेश के बाद भी जो लोग पुराने ₹500 या ₹1000 के नोटों को बैंक में जमा करेंगे उनके लिए यह सीमा अब भी जारी रहेगी।

इसे इस तरह समझें 

इसे इस तरह समझें 
via

मान लीजिये कि आपने बैंक में 15,000 रूपये जमा किये हैं। जिनमें से ₹10,000 पुराने नोटों में व ₹5000 नये नोट के रूप में जमा किये गए हैं, तो आपके यह 5000 रुपये 24,000 रुपयों की समयसीमा के अन्तर्गत नहीं आंएगे। मतलब आप ₹24000 के अतिरिक्त ₹5000 निकाल सकते हैं। 

अपने नोटिफिकेशन में ये कहा आर.बी.आई. ने 

अपने नोटिफिकेशन में ये कहा आर.बी.आई. ने 
via

आर.बी.आई. ने अपने नोटिफिकेशन में कहा, 'सावधानीपूर्वक विचार करने के बाद ही 29 नवम्बर और उसके बाद वर्तमान वैध टेंडर करेंसी में राशि जमा करने वालों को वर्तमान सीमा के बाद भी यह राशि निकालने की अनुमति दी जा रही है। इसके लिए ख़ासतौर में नए ₹500 और ₹2000 के नोट जारी किये जाएंगे।'

नियमित रूप से लेन-देन करने वालों को होगा फायदा 

नियमित रूप से लेन-देन करने वालों को होगा फायदा 
via

आर.बी.आई. के इस फैसले से व्यापारियों और नियमित रूप से बड़ा लेनदेन करने वालों को ख़ासा फायदा होगा। अब वे बैंक में राशि जमा करने में हिचकिचाएंगे नहीं। साथ ही इससे करेंसी का सर्कुलेशन भी बढ़ेगा।

क्या आर.बी.आई. के इस फैसले से आप खुश हैं?