अब लड़की नहीं ये मशीन देगी बच्चे को जन्म, जानिये क्या है इसके पीछे तकनीक 

सरोगेसी से हटकर है ये तकनीक।

अब लड़की नहीं ये मशीन देगी बच्चे को जन्म, जानिये क्या है इसके पीछे तकनीक 
SPONSORED

साइंस भी कमाल की चीज है। ये किसी जादूगर की तरह है, जो सदियों से अपने पिटारे से नई-नई चीजें निकालता रहता है। इसने ऐसी-ऐसी चीजें मुमकिन कर दिखाई है, जिनके बारे में हमने कभी सपने में भी नहीं सोचा था। अब आप ही बताइये कि क्या कभी सोचा था कि एक दिन आर्टिफिशल इंटेलिजेंस जैसी कोई चीज ईजाद होगी। या फिर कभी ब्लू व्हेल जैसा कोई गेम आ जाएगा, जिसे खेलने के बाद लोग सुसाइड करने पर मजबूर हो जाएंगे। 

जल्द ही साइंस का एक और कमाल देखने को मिलने वाला है। इसकी मदद से बिना प्रेग्नेंट हुए बच्चा पैदा किया जा सकेगा। ये तकनीक सरोगेसी नहीं है, जिसकी मदद से शाहरुख़ खान, आमिर खान और करण जौहर जैसे सितारे पिता बने हैं। 

ये बात बिल्कुल हटकर है। तो फिर देर किस बात की है। आइए जानते हैं पूरा मामला।

समिट में दिखाया गया यह कांसेप्ट

समिट में दिखाया गया यह कांसेप्ट

हाल ही में न्यूयॉर्क में बायोडिजाइन चैलेंज समिट का आयोजन किया गया था। इसमें 22 यूनिवर्सिटी के 24 स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया। इस समिट में स्टूडेंट्स ने अपने अनूठे साइंस प्रोजेक्ट पेश किये। इसके अंतर्गत ArtEZ प्रोडक्ट डिजाइन Arnhem के स्टूडेंट ने अपना एक प्रोजेक्ट पेश किया। इसके मुताबिक बिना प्रेग्नेंट हुए बच्चे को जन्म दिया जा सकेगा।

RELATED STORIES

मशीन का किया जाएगा इस्तेमाल

मशीन का किया जाएगा इस्तेमाल
via

इस टेक्नोलॉजी के जरिये बच्चा पैदा करने के लिए Parturient का इस्तेमाल किया जाएगा, जो कि एक आर्टिफीशियल Incubator है। Incubator एक ऐसी मशीन होती है, जिसका इस्तेमाल समय से पहले जन्मे बच्चे को जिन्दा रखने के लिए किया जाता है। Arnhem के स्टूडेंट्स के अनुसार इस मशीन के जरिये महिलाओं के भ्रूण को उनके शरीर के बाहर विकसित किया जा सकता है।

आगे देखिये कैसी है यह मशीन।

प्रक्रिया को देखा जा सकेगा

प्रक्रिया को देखा जा सकेगा
via

यह मशीन इंटरनेट से जुड़ी हुई है, जिसमें एक पारदर्शी घुमावदार Lid है। चूँकि इसकी Lid पारदर्शी होगी, इसलिए इसमें भ्रूण के विकसित होने की प्रक्रिया को भी देखा जा सकेगा।

नौ महीने बाद जन्म

नौ महीने बाद जन्म
via

जिस तरह डिब्बे के ऊपर से ढक्कन हटा दिया जाता है, उसी तरह 9 महीने पूरे होने के बाद इस मशीन की Lid को हटा कर डिलीवरी की जाएगी।

आगे जानिये मशीन क्यों है गर्भ से बेहतर। 

बच्चे के खाने का खयाल

बच्चे के खाने का खयाल
via

इस तकनीक की सबसे बड़ी खूबी यह है कि इसके जरिये बच्चे के खाने-पीने और उसके न्यूट्रीशिन का ख्याल रखा जा सकेगा। बच्चे को खिलाने के लिए एक छोटी सी ट्यूब भी इस Product के साथ दी जाएगी।

बच्चा महसूस कर सकेगा

बच्चा महसूस कर सकेगा
via

गर्भ के दौरान बच्चे को माँ की कमी महसूस न हो इसके लिए इस मशीन के साथ एक माइक्रोफ़ोन भी मौजूद होगा, जिसके जरिए बच्चा अपने माता-पिता की आवाज को महसूस कर सकेगा।

आगे देखिये किस तरह माता-पिता जुड़े रहेंगे अपने बच्चे से।

माता-पिता महसूस कर सकेंगे मूवमेंट्स

माता-पिता महसूस कर सकेंगे मूवमेंट्स
via

इस मशीन में एक पोर्टेबल डिवाइस भी लगाया गया है, जिसके जरिये माता-पिता अपने बच्चे के मूवमेंट्स को महसूस कर सकेंगे। डिवाइस में मौजूद बटन को दबाने पर बच्चे को अपनी मां की मौजूदगी का एहसास होगा।

होंगे कई फायदे

होंगे कई फायदे
via

यह तकनीक प्रेग्नेंसी के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन ला सकती है। दुनिया में कई महिलाएं किसी न किसी वजह से माँ नहीं बन पाती। उनके लिए अभी तक सिर्फ सरोगेसी ही इकलौता ऑप्शन मौजूद था। मगर अब इस तकनीक के जरिये भी वो माँ बन सकेंगी। यह तकनीक प्रीमेच्योर बच्चों के लिए भी बहुत फायदेमंद है।

आगे वीडियो में देखिये कैसे काम करती है यह मशीन। 

देखिये वीडियो

अब ये तो वक्त ही बताएगा कि ये तकनीक लोगों के बीच कब तक पहुँचती है? मगर इसके जरिये महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले दर्द से राहत जरूर मिल जाएगी। 

सौजन्य से - Fatherly

मेरे और आर्टिकल्स पढ़ने के लिए, यहाँ क्लिक कर मुझे सब्सक्राइब करें।


क्या आप मानते हैं कि विज्ञान आने वाले वक्त में हर क्षेत्र में दखल देने में सक्षम होगा?