आपकी उदासी को दूर करने में कारगर होंगे ये नटखट चुटकुले

हंसी ना आए तो कहना। 

आपकी उदासी को दूर करने में कारगर होंगे ये नटखट चुटकुले
SPONSORED

बाहर कोई आदमी कितना ही शेर क्यों ना हो मगर घर जाकर तो उसे भीगी बिल्ली बनना ही पड़ता है। हर शादीशुदा मर्द की कहानी कुछ ऐसी ही होती है। कुछ शेर बने रहते हैं तो उनकी पत्नियां उनके ऊपर दुर्गा बनकर सवार हो जाती हैं। वैसे तो पत्नी के सामने मुँह खुलता ही नहीं है। 

मगर कभी जरूरत पड़े तो बहुत सोच-समझकर बोलना पड़ता है। एक गलत शब्द भी बेचारे पति की जान का दुश्मन बन सकता है। यदि आपको लगता है कि आपकी किस्मत दुनिया में सबसे खराब है या आप दुनिया के सबसे प्रताड़ित पति हैं तो शायद आप गलत हैं। 

दरअसल, हम आपके लिए कुछ ऐसे जोक्स लेकर आए हैं जो प्रताड़ित पतियों पर ही केंद्रित हैं। जब आप इन चुटकुलों को पढ़ेंगे तो आपको समझ आएगा कि इन बेचारे पतियों का दर्द तो बहुत ही ज्यादा है। साथ ही साथ आपका मनोरंजन भी हो जाएगा और आपको दर्द से भी राहत मिलेगी।

हाय रे नसीब 

हाय रे नसीब 

इनके जीवन में तो कुछ दिनों की शांति भी नहीं लिखी है। 

RELATED STORIES

तैयार तो होना पड़ेगा 

तैयार तो होना पड़ेगा 

देखिए, उसने हां बोल दिया तो फिर सेल्फी वगैरह भी तो लेनी पड़ेंगी ना। अब उसके लिए पहले तैयार होना तो बनता है। 

आंसू आ गए 

आंसू आ गए 

इस जोक को पढ़कर ऐसा लगा जैसे किसी ने दुखती रग पर हाथ रख दिया हो।  

अच्छा बच्चू 

अच्छा बच्चू 

वैसे आजकल लड़कियां सिर्फ चप्पल के भरोसे नहीं है। उन्हें मारने-पीटने के और भी कई तरीके आते हैं।

महंगा पड़ेगा 

महंगा पड़ेगा 

संता का जवाब तो फनी था। मगर उसने पुलिस को ऐसा जवाब दे दिया है। दरवाजा खोलने पर डंडे ही डंडे पड़ने वाले हैं।  

हाय राम

हाय राम

थोड़ा सोच-समझकर तो बोलते। अब तो शर्ट के चिथड़े-चिथड़े होने वाले हैं। 

नाम...जलेबी बाई 

नाम...जलेबी बाई 

ऐसे तो जिनका नाम पवन या सागर होता है, उन्हें भी ऐसे उड़ते हुए सिग्नेचर ही करना चाहिए।

बहुत सही 

बहुत सही 

अब एक अच्छी सेल्फी के लिए इतनी मेहनत तो करनी ही पड़ेगी। कोई बाएं हाथ का खेल थोड़ी है।

इनका सही है 

इनका सही है 

कभी-कभी पुलिसवाला होना वाकई फायदेमंद लगता है। 

सब्र नहीं होता 

सब्र नहीं होता 

अब बचपन से यही बात सुनते आ रहे हैं तो उसे जिंदगी में इम्प्लीमेंट करना भी तो जरूरी है।

देख लो अपने हिसाब से 

देख लो अपने हिसाब से 

ये सही है यार। समय के साथ धमकियां भी अपग्रेड होती रहनी चाहिए। कब तक एक ही धमकी देते रहे। 

विश्वास ही नहीं 

विश्वास ही नहीं 

यह एकदम सच्ची बात है। हम लाखों-करोड़ों उनके भरोसे छोड़ देते हैं और वो हम पर ही शक करते हैं।

पॉइंट तो है 

पॉइंट तो है 

इस छात्र से हमें भी बहुत कुछ सीखने की जरूरत है। कोई हमारी कितनी ही आलोचना करे। हमें खुद पर भरोसा बनाए रखना चाहिए।

अब बोल 

अब बोल 

तेरे पास लॉकर है तो क्या, उसकी चाबी तो मेरे पास है। अब देख लो चाबी वापस कैसे लेनी है। 

बड़ा तेज दिमाग है 

बड़ा तेज दिमाग है 

भगवान ऐसे लोगों को धरती पर भेजता ही क्यों हैं? समझ नहीं आता। जल्दबाजी में ऐसे ही माल बिगड़ जाता है।

इन चुटकुलों ने आपका दर्द कम किया हो तो इन्हें अपने दुःखी दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिएगा।  

क्या आप भी दोस्तों का मूड बदलने के लिए चुटकुलों का सहारा लेते हैं?