इन तस्वीरों को देखकर आप भी मान जाएंगे कि 'सादगी के भगवान' हैं राहुल द्रविड़ 

द्रविड़ का जवाब नहीं। 

इन तस्वीरों को देखकर आप भी मान जाएंगे कि 'सादगी के भगवान' हैं राहुल द्रविड़ 
SPONSORED

इंडिया ने क्रिकेट को कई महान खिलाड़ी दिए हैं। जिनमें से एक 'राहुल द्रविड़' भी हैं। 'The wall' राहुल द्रविड़ एक समय टीम के बहुत महत्वपूर्ण खिलाड़ी हुआ करते थे। अक्सर कहा जाता है कि सिर के ऊपर छत होनी चाहिए लेकिन दीवारें नहीं होगीं तो छत टिकेगी कहाँ? राहुल द्रविड़ भी इंडियन क्रिकेट टीम रूपी 'छत' के लिए ऐसी ही 'दीवार' हुआ करते थे। 

1973 में जन्मे द्रविड़ ने 12 साल की उम्र से ही अपना जीवन क्रिकेट को समर्पित कर दिया था। अपने क्रिकेट करियर के दौरान उन्होंने कई रिकार्ड्स बनाए और कई मंचों पर सम्मानित भी हुए। द्रविड़ को रिटायरमेंट लिए काफी समय हो गया है। लेकिन वो अब भी भारतीय क्रिकेट टीम का मार्गदर्शन कर रहे हैं और 'अंडर 19' व 'इंडिया A' जैसी टीमों के हेड कोच भी हैं। 

राहुल द्रविड़ की एक और खास बात यह है कि उनका मिजाज और रहन-सहन हमेशा एक जैसा ही रहा है। उनकी सादगी का कोई जवाब ही नहीं है। आज हम उनकी कुछ ऐसी ही तस्वीरें लेकर आए हैं जिन्हें देखकर आप उनकी सादगी के और भी कायल हो जाएंगे।  

वाह! क्या शॉट है 

वाह! क्या शॉट है 

तस्वीर देखकर शायद आपको भी अपना बचपन याद आ गया होगा। अपने पापा को आप भी इसी तरह अपने साथ क्रिकेट खेलने ले जाया करते होंगे। 

RELATED STORIES

चलो फुटबॉल खेलें

चलो फुटबॉल खेलें
via

द्रविड़ का बच्चों के लिए प्रेम हर जगह दिख ही जाता है। बच्चों की खुशी के लिए वो उनके साथ खेलने के लिए भी तैयार हो गए। 

एक आदर्श पिता 

एक आदर्श पिता 
via

द्रविड़ खेल के प्रति तो गंभीर थे ही साथ ही साथ एक आदर्श पिता की तरह वो अपने बच्चों को भी पर्याप्त समय देते रहे हैं। 

फैमिली टाइम 

फैमिली टाइम 
via

यह तस्वीर उस समय की है जब द्रविड़ अपने परिवार के साथ केरल के एक बीच पर वेकेशन मनाने गए थे। आप देख सकते हैं कि वो बाकी लोगों की तरह ही सादगी के साथ उस पल का आनंद ले रहे हैं। 

निराला अंदाज 

निराला अंदाज 
via

द्रविड़ पर यह देसी लुक भी बहुत सूट कर रहा है। साथ ही इस तस्वीर में उनका डेयरिंग वर्जन भी उभरकर सामने आया है। 

कुछ कहेंगे आप?

कुछ कहेंगे आप?
via

यह तस्वीर खुद ही सबकुछ बयां कर रही है। इस घटना के बाद तो ऑटो वाले ने अपने ऑटो की पूजा करनी शुरू कर दी होगी। 

सब ठीक है?

सब ठीक है?
via

द्रविड़ खेल के मैदान पर भी युवा खिलाड़ियों को एक बड़े भाई की तरह ही ट्रीट करते रहे हैं। 

एक सादगी भरी मुस्कान 

एक सादगी भरी मुस्कान 
via

एक इवेंट के दौरान द्रविड़, दिव्यांग बच्चों से कुछ इस अंदाज में मिले थे। उनके चेहरे की हंसी देखकर तो किसी भी फैन का दिल खुश हो जाए। 

एक और नमूना 

एक और नमूना 
via

फैमिली फोटो में जिसे जगह नहीं मिलती वो आगे आकर नीचे बैठ जाता है। द्रविड़ भी इस मामले में हमसे ज्यादा अलग नहीं हैं। 

एक आदर्श बेटे 

एक आदर्श बेटे 
via

पब्लिक इवेंट में भी द्रविड़ अपने पिता का पूरा ध्यान रखते हुए नजर आ रहे हैं। हमारे लिए ये एक सीखने वाली बात है। 

एक और फैन मोमेंट

एक और फैन मोमेंट
via

द्रविड़ कभी अपने फैंस को निराश नहीं करते। जब आपका आदर्श आपसे इस अंदाज में मिले तो उसके लिए इज्जत और भी ज्यादा बढ़ जाती है। 

गजब की तल्लीनता 

गजब की तल्लीनता 
via

कुछ लोग कैमरे में देख रहे हैं, तो कुछ इधर-उधर लेकिन द्रविड़ को इन सब चीजों से कोई मतलब ही नहीं है। वो बस अपनी आराधना में व्यस्त हैं। 

ऑटोग्राफ हो जाए 

ऑटोग्राफ हो जाए 
via

मेलबॉर्न में द्रविड़ ने अपने ऑस्ट्रेलियन फैंस को भी बड़े ही प्यार से ट्रीट किया था। उन्होंने ऑटोग्राफ देने में कोई हड़बड़ी नहीं की। फैंस को द्रविड़ के ऑटोग्राफ के साथ एक प्यारी सी स्माइल भी मुफ्त में मिली।  

जय हिंद 

जय हिंद 
via

चेन्नई के एक स्कूल के इवेंट में शामिल होने गए द्रविड़ ने खुशी-खुशी स्टूडेंट्स के साथ तस्वीरें खिचवाई थीं। 

हमेशा डटे रहना 

हमेशा डटे रहना 
via

11 जनवरी 2017 को राहुल द्रविड़ 45 साल के हो गए हैं। हम चाहेंगे कि जिस तरह वो टीम इंडिया के लिए क्रीज पर डटे रहते थे, उसी तरह वो खुद के और परिवार के लिए भी हमेशा डटे रहें। 

'Happy Birthday Rahul Dravid'   

क्या आप भविष्य में द्रविड़ को टीम इंडिया के कोच के रूप में देखना चाहते हैं?