यकीन मानिए, इन पाकिस्तानी क्रिकेटर्स की इंग्लिश सुनकर चकरा जाएगा आपका दिमाग

शायद इन्हें देखकर ही बने होंगे RIP इंग्लिश वाले मीम्स।

यकीन मानिए, इन पाकिस्तानी क्रिकेटर्स की इंग्लिश सुनकर चकरा जाएगा आपका दिमाग
SPONSORED

अगर आपको इंग्लिश की कब्र खुदते हुए देखने का मन हो तो या तो सोशल मीडिया पर चले जाइये या फिर कुछ पाकिस्तानी क्रिकेटर्स का इंटरव्यू देख लीजिये। सोशल मीडिया पर इंग्लिश का जनाजा देखने के लिए आप किसी एंजेल प्रिया टाइप की प्रोफाइल को सर्च कर सकते हैं और उसकी प्रोफाइल फोटो पर मौजूद कमेंट्स को पढ़ सकते हैं। वहां आपको 'I want fraandsip wid u', 'U luk reali nyc', 'I laik u hai standard garl' जैसे कमेंट्स देखने को मिल जाएंगे। ये कमेंट्स पढ़कर शायद आपको इनका मतलब भी समझ आ जाए लेकिन अगर आप कुछ पाकिस्तानी क्रिकेटर्स के इंटरव्यू देखेंगे तो आपको उन्हें किसी पहेली की तरह बूझना पड़ेगा। अगर यकीन नहीं तो चलिए हम आपके सामने पेश करते हैं ऐसे ही कुछ नमूने।

"आई एम इन्जॉय एबरी नंबर"

RELATED STORIES

ये ताबड़तोड़ इंग्लिश बोलने वाले महाशय हैं कामरान अकमल। आपने पाकिस्तान के मैच के दौरान अक्सर इन्हें विकेट कीपिंग करते हुए चिल्लाते हुए सुना होगा। अब ये क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं मगर इनके खेल और इनकी इंग्लिश के लिए इन्हें कभी भुलाया नहीं जा सकेगा।

"आई क्रेडिट गोज टू वेस्टइंडीज टीम"

ये हैं पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक। माना कि ये अपने बल्ले से गेंदबाजों की नाक में दम कर देते थे मगर इनकी अंग्रेजी तो माशाअल्लाह है। अगर आपने इस वीडियो में रमीज़ राजा का रिएक्शन नहीं देखा तो फिर क्या देखा?

"क्या बोला?"

अगर हिंदी मीडियम वाले बच्चे को एक दिन के लिए इंग्लिश मीडियम वाले बच्चों की क्लास में बैठा दिया जाए तो वो किस तरह स्ट्रगल करता है, आप उमर अकमल के इस इंटरव्यू में देख सकते हैं।

"आई एम बोल अ फियु" 

इतने कॉन्फिडेंस तो इंग्लिश पढ़ाने वाला टीचर भी इंग्लिश नहीं बोलता जितने कॉन्फिडेंस से स्पिन बॉलर सईद अजमल बोल रहे हैं। बाकी सब तो ठीक है लेकिन क्या आपको समझ आया कि वो बोल क्या रहे हैं?

"स्टार्टनिंग आई वाज लिटिल बिट कन्फ्यूज"

अगर आप सोचते हैं कि मेल पाकिस्तानी क्रिकेटर्स ही इंग्लिश का जनाजा निकालते हैं तो आप सरासर गलत हैं। पाकिस्तानी छोरियां भी किसी से कम थोड़ी हैं।

"बाउंसर-बाउंसर-बाउंसर"

सईद अजमल का कॉन्फिडेंस देखकर उनका एक और वीडियो देखना तो बनता है। अगर आप दिन भर से हँसे नहीं हैं तो एक बार इनका "बाउंसर-बाउंसर-बाउंसर" इंटरव्यू देख लीजिये। हंसी खुद-ब-खुद आ जाएगी। 

"सो आई एम जस्ट लॉट ऑफ रन्स"

उमर अकमल का इंटरव्यू लेने वाले इंसान के साथ हमारी सहानुभूति है। बेचारे का कुछ देर के लिए तो दिमाग भन्ना गया होगा कि ये क्या सुन लिया मैंने?

"आई एम थैंक्सफुल फॉर माय स्किपर"

वैसे तो अब शोएब अख्तर की इंग्लिश काफी सुधर गई है मगर एक वक्त था जब उन्हें इंग्लिश से जंग लड़नी पड़ती थी। ये उसी दौर का उनका एक शानदार इंटरव्यू है। 

"बॉयज इस रियली प्लेड वेल"

किसने सोचा था कि इंजमाम उल हक के मुंह से निकली एक लाइन "बॉयज इस रियली प्लेड वेल" एक दिन पाकिस्तान क्रिकेट टीम की इंग्लिश की पहचान बन जाएगी। 

"आई थिंक इस ग्राउंड इस बे..ग्राउंड फील्डिंग इस..."

ऐसा लगता है कि कई बार तो इंटरव्यू लेने वाला भी मजे लेने के लिए इनसे इंग्लिश में सवाल पूछता है। इसमें कोई दोराय नहीं कि पाकिस्तानी खिलाड़ी बहुत अच्छा खेलते हैं और किसी भी टीम को धूल चटाने का दम रखते हैं लेकिन उन्हें मैदान में उतरने से पहले स्पोकन इंग्लिश की कोचिंग ले लेनी चाहिए। 

अगर आपको इंटरव्यूज ने गुदगुदाया तो इन्हें शेयर कर दूसरों को चेहरों पर भी मुस्कान लाइए। 

मेरे और मजेदार आर्टिकल्स पढ़ने के लिए, यहाँ क्लिक करें।

क्या आप मानते हैं कि खिलाड़ियों को इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए?