ये हैं वो 10 बेहतरीन शार्ट फिल्में, जो आपको नया नज़रिया देंगी

मौका मिलते ही देखिएगा।

ये हैं वो 10 बेहतरीन शार्ट फिल्में, जो आपको नया नज़रिया देंगी
SPONSORED

हमारी जिंदगी में एंटरटेनमेंट के लिए फिल्में भी उतनी ही ज्यादा जरूरी हैं, जितना कि दारु के साथ चखना, चाय के साथ बिस्कुट और दाल के साथ चावल। यही वजह है कि भारत में हर साल 20 से भी ज्यादा भाषाओं में करीब 1,500 से 2,000 फिल्में बनाई जाती हैं। इनमें से कुछ फिल्में ही बॉक्स ऑफिस पर अपना परचम लहरा पाती हैं।

कुछ फिल्में हम बहुत उम्मीद से थिएटर में देखने जाते हैं मगर जब हम उन्हें देखकर थिएटर से बाहर निकलते हैं तो हमें ठगा हुआ सा महसूस होता है। ऐसा लगता है जैसे हमारे पैसे भी बर्बाद हो गए और वक्त भी क्योंकि उन फिल्मों की ना कहानी में दम होता है और ना एक्टिंग में।

अगर आप दमदार कहानी और शानदार एक्टिंग वाली फिल्मों की तलाश में हैं तो आपको थियेटर जाने की जरूरत नहीं। आप यूट्यूब पर मुफ्त में कुछ शार्ट फिल्मों का लुत्फ उठा सकते हैं।

'अनुकूल'

RELATED STORIES

टेक्नोलॉजी जितनी तेजी से आगे बढ़ रही है, उस हिसाब से वो दिन दूर नहीं जब रोबोट हमारे साथ हमारे घरों में रह रहे होंगे। सत्यजीत रे की कहानी पर आधारित इस फिल्म में वही वक्त दिखाया गया है। ये फिल्म दमदार कहानी और रोमांच से भरपूर है।

'जिया जाए'

अगर आप म्यूजिकल लव स्टोरीज के शौकीन हैं तो ये फिल्म आपके लिए है। रूहानी म्यूजिक से सजी इस फिल्म में आपको कश्मीर में फैली नफरत के बीच पनपती एक खूबसूरत लव स्टोरी देखने को मिलेगी। 

'कार्बन'

नवाजुद्दीन सिद्दीकी, जैकी भगनानी की ये फिल्म हमारे लिए किसी आईने से कम नहीं है। ये दिखाती है कि हमारा आने वाला कल कैसा होने वाला है और पॉल्यूशन पर लगाम लगाना क्यों जरूरी है। ये फिल्म आपको अंदर तक झकझोर कर रख देगी।

'चटनी'

17 मिनट की यह फिल्म रोमांच से भरपूर है। इसमें दिखाया गया है कि औरत अगर चाहे तो वो कितनी खतरनाक हो सकती है। इस थ्रिलर फिल्म को 12 करोड़ से ज्यादा बार देखा जा चुका है।

आउच 

'अ वेडनेसडे' और 'एम. एस. धोनी' जैसी  फिल्में बनाने वाले नीरज पांडे की ये फिल्म एक्स्ट्रा मेरिटल अफेयर पर आधारित है। अगर आप सोचते हैं कि प्यार में दिमाग से नहीं दिल से ही काम लेना चाहिए तो हो सकता है फिल्म देखने के बाद आपका नजरिया बदल जाए। 

'अहल्या'

थ्रिलर फिल्में पसंद करने वालों के लिए ये फिल्म किसी ट्रीट से कम नहीं है। फिल्म की कहानी आपको अंत तक बांधे रखती है और क्लाइमेक्स में आपको जबरदस्त ट्विस्ट देखने को मिलता है। अगर आपने इसे नहीं देखा है तो इसे आपको तुरंत देखना चाहिए।

'जुत्ती' 

ये फिल्म एक खूबसूरत लव स्टोरी है जो बताती है कि किसी से एक छोटी सी मुलाकात भी कभी-कभी कितनी ख़ास होती है। फिल्म में एक पंजाबी जूती बेचने वाले लड़के और गुजराती लड़की की कहानी दिखाई गई है जो आखिर में हमारे होंठों पर हंसी छोड़ जाती है। 

'दी होमकमिंग'

वैसे तो ये फिल्म Urban Ladder Furniture Store की कमर्शियल फिल्म है मगर इसे देखते वक्त आपको इस बात का बिलकुल भी एहसास नहीं होगा। इस फिल्म में दिखाया गया है कि अपना घर, घर होता है और उसकी जगह कोई नहीं ले सकता। 

'दी लास्ट डे'

ब्रेकअप सिर्फ गर्लफ्रेंड-बॉयफ्रेंड का नहीं होता। जब आप एक इंसान के साथ कई सालों तक रूममेट बनकर रहते हैं और जिंदगी के एक पड़ाव पर जब आप दोनों को अलग होना पड़ता है तो वो भी एक एक तरह का ब्रेकअप ही होता है। उसी पड़ाव को दिखाती ये फिल्म आपके दिल को छू जाएगी। 

मुंबई वाराणसी एक्सप्रेस

माया मरी न मन मरा, मर मर गये शरीर। आषा तृष्णा ना मरी, कह गये दास कबीर। 

यही इस फिल्म का सार है। जीवन की सच्चाई को दिखाती यह फिल्म आपको जिन्दगी के बारे में सोचने पर मजबूर कर देगी। 

अगर आपने इनमें से कोई फिल्म नहीं देखी है तो यूट्यूब पर उसे तुरंत देख डालिये। ये फिल्में आपका वक्त ज़ाया नहीं करेंगी। मेरे और आर्टिकल्स पढ़ने के लिए, यहाँ क्लिक करें। 

क्या आप मानते हैं कि यूट्यूब पर मौजूद ये फिल्में असल मनोरंजन का नमूना हैं?