दिखावे की हो गई है ये दुनिया, सोचने पर मजबूर कर देंगी ये तस्वीरें

आज के समाज का आईना हैं ये Illustrations।

दिखावे की हो गई है ये दुनिया, सोचने पर मजबूर कर देंगी ये तस्वीरें
SPONSORED

क्या आपने कभी सोचा कि अगर इंटरनेट ईजाद ही ना हुआ होता तो ये दुनिया कैसी होती? तब शायद हमारी भावनाएं इतनी कमजोर ना हुई होती कि वो बात-बात पर आहत हो जाएं। तब शायद हमारे दिमाग में इतना कचरा ना भरा हुआ होता, इसलिए दुनिया में इंसानियत नाम की चीज भी मौजूद होती। हमारे पास अपनों के साथ बिताने के लिए वक्त होता और रिश्तों की डोर भी इतनी कमजोर ना हुई होती। मगर अफसोस कि इन बातों की हम सिर्फ कल्पना कर सकते हैं। आज सोशल मीडिया हमारी जिंदगी का हिस्सा नहीं बल्कि हमारी जिंदगी बन चुका है। इसकी वजह से प्यार कम और नफरत ज्यादा फेल रही है। एक इंसान कई चेहरे लेकर घूम रहा है।

इन तमाम बातों को Illustration आर्टिस्ट Marco Melgrati ने अपने Illustrations में बखूबी दर्शाया है। यकीन मानिये Marco की ये तस्वीरें आपको सोचने पर मजबूर कर देंगी।

मनी है तो हनी है

मनी है तो हनी है

आज पैसे से लगभग हर चीज खरीदी जा सकती है। अगर आपके पास पैसा है तो शायद आपको आपका प्यार भी मिल सकता है। 

RELATED STORIES

दिखावे की दुनिया 

दिखावे की दुनिया 

ये दुनिया अब दिखावे की हो गई है। असल जिंदगी में हम कैसे भी हों मगर सोशल मीडिया पर हमारा खुश और अच्छा दिखना हमारी मजबूरी बन गया है। 

महंगाई की मार

महंगाई की मार

महंगाई की मार सिर्फ मिडिल क्लास और लोअर मिडिल क्लास लोगों को ही पड़ती है। विज्ञान ने भले ही बहुत तरक्की कर ली है लेकिन आज भी जब कुछ लोगों को किसी बड़ी बीमारी का इलाज कराना होता है तो उनकी जिंदगी भर की कमाई चली जाती है। 

ईगो कर देता है बर्बाद

ईगो कर देता है बर्बाद

कुछ लोगों के अर्श तक पहुंचकर वापस फर्श पर आने की वजह उनका ईगो होता है। इस बात का हालिया उदाहरण कपिल शर्मा हैं जिन्हें आप इस मुर्गे में इमेजिन कर सकते हैं। 

कल किसने देखा

कल किसने देखा
via

इंसान आज धरती पर खुद को सबसे ताकतवर जानवर समझता है। मगर कल किसी ने नहीं देखा। हो सकता है कल कोई हमसे भी ताकतवर जीव आकर हमें अपना गुलाम बना ले। 

लाइक कमाने की होड़

लाइक कमाने की होड़

सोशल मीडिया पर इंसान अपने दिन-रात खर्च करके बस एक ही चीज कमाता है और वो चीज है लाइक्स। आज उसे हैशटैग के रूप में लाइक्स कमाने का शार्टकट भी मिल गया है। 

आज भी वही हालात 

आज भी वही हालात 

दुनिया में ऐसे कई कोने हैं जहाँ आज भी महिलाओं के वही हालात हैं जो सौ साल पहले हुआ करते थे। ना जाने ये दुनिया कब बदलेगी। 

हमने क्यों छोटी कर ली अपनी दुनिया 

हमने क्यों छोटी कर ली अपनी दुनिया 

रिलायंस का स्लोगन हुआ करता था कि "कर लो दुनिया मुट्ठी में" मगर हुआ यूँ कि हमने अपनी मुट्ठी को ही अपनी दुनिया बना लिया। 

हर इंसान के हैं कई चेहरे

हर इंसान के हैं कई चेहरे
via

आज के समय में हर इंसान के कई चेहरे हैं। कब किसके अंदर छिपा हुआ भेड़िया बाहर आ जाए ये कोई नहीं जानता। 

अब बच्चे जेल में पढ़ते हैं

अब बच्चे जेल में पढ़ते हैं

पहले बच्चे स्कूल में पढ़ा करते थे मगर अब उनपर पढ़ाई का प्रेशर देखकर, ये कहना गलत नहीं होगा कि अब बच्चे जेल में पढ़ा करते हैं। 

प्यार चाइना का माल है

प्यार चाइना का माल है
via

अब सच्चा प्यार सिर्फ किताबों में ही पाया जाता है। Facebook और Tinder पर जो प्यार मिलता है वो चाईना का माल होता है। 

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने करीबियों के साथ भी शेयर करें। 

मेरे और आर्टिकल्स पढ़ने के लिए, यहाँ क्लिक करें।

क्या कभी हमारे समाज में सुधार हो पाएगा?