कुर्सी जाने के बाद बोले नवाज़ शरीफ, 'आतंकी संगठन सक्रिय है'

बयान के बाद मच गई है खलबली।

कुर्सी जाने के बाद बोले नवाज़ शरीफ, 'आतंकी संगठन सक्रिय है'
SPONSORED

तो आखिरकार पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ ने यह स्वीकार कर ही लिया कि मुंबई हमले में पाकिस्तानी आतंकवादियों का हाथ था। हालांकि उक्त बात शरीफ ने एक पाकिस्तानी अखबार डॉन न्यूज को दिए गए इंटरव्यू में कही है। शरीफ ने कहा, 'आतंकी संगठन सक्रिय है। क्या हम उन्हें सीमा पार जाकर मुंबई में 150 लोगों की हत्या करने दें? हम ट्रायल पूरा क्यों नहीं करते हैं?' 

वैसे फिलहाल पाकिस्तान में शरीफ की ही सरकार है। ऐसे में उनके बयान के बाद वहां की सरकार क्या कदम उठाएगी यह तो आने वाला समय ही बताएगा। दूसरी तरफ पाकिस्तानी सरकार के गृह राज्यमंत्री हंसराज अहिर ने कहा, 'हम हमेशा से यही बात कहते आ रहे हैं जो पूर्व पीएम ने कहा है। उम्मीद है कि मौजूदा सरकार आतंकवाद को रोकने के पुख्ता कदम उठाएगी।' 

बहरहाल पढ़िए पूरी बात।

सेना पर सवाल

सेना पर सवाल

दरअसल जुलाई 2017 में शरीफ को भ्रष्टाचार के आरोपों के कारण पद से हटा दिया गया था। सुप्रीमकोर्ट ने उन पर आजीवन चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है। शरीफ अपने बयानों के जरिए इस कोशिश में हैं कि उनकी पार्टी चुनाव में जीत हासिल करे। इस बयान काे इसी बात से जोड़कर देखा जा रहा है।

RELATED STORIES

स्पष्ट संकेत दिया

स्पष्ट संकेत दिया
via

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री शरीफ और वहां के राजनेताओं की स्वीकृति से यह स्पष्ट है कि पाकिस्तानी आतंकियों ने ही मुंबई हमले को अंजाम दिया था। भारत इस बात को पूरी ताकत के साथ दुनियाभर के सामने रखता आया है। 

2009 में हुआ था ऐसा

2009 में हुआ था ऐसा
via

जानकारी के मुताबिक साल 2009 में पाकिस्तानी पीपुल्स पार्टी के गृहमंत्री रहमान मलिक ने प्रेस कांफ्रेंस करके बताया था कि मुंबई हमले को पाकिस्तान की ज़मीन से अंजाम दिया गया था। 

परवेज मुशर्रफ ने भी कही थी ऐसी बात

परवेज मुशर्रफ ने भी कही थी ऐसी बात
via

परवेज मुशर्रफ ने कहा था '1990 में एकाएक कश्मीर में आजादी की लड़ाई शुरू हुई। तब लश्कर ए तैयबा सहित 11-12 संगठनों ने इसमें हिस्सा लिया। हमने उन्हें सहयोग दिया। प्रशिक्षण दिया क्योंकि वो अपनी जान पर खेलकर इस लड़ाई को लड़ रहे थे।' 

क्या आप मानते हैं कि इस तरह की बयानबाजी से कोई फर्क पड़ता है?